15 दिसम्बर तक तैयार होगा जिला न्यायालय, 25 में बनना था, लगेंगे 91 करोड़

ग्वालियर. जिला न्यायालय के सिटी सेंटर में न्यू कलेक्ट्रेट के पास बन रहे नए भवन को 15 दिसंबर तक तैयार करके न्यायालय को हस्तांतरित करना है। हाईकोर्ट के निर्देश के बाद लग रहा था कि यहां काम में तेजी आएगी और तेजी मजदूरों की संख्या को देखते हुए निर्धारित सीमा में काम पूरा होना असंभव सा नजर आ रहा है। नवरात्र प्रारंभ होने के बाद दिवाली के तीन से चार दिन बाद तक के लिए मजदूर भी अपने गांव लौट जाते है इस कारण इन दिनों में निर्माण कार्य नियमित नहीं हो पाते है। वैसे इस भवन के निर्माण में सबसे बड़ी फण्ड की बाधा सरकार ने दूर कर दी है। इस बिल्डिंग को पूरा करने के लिए 91 करोड़ रुपए मंजूर कर दिए है।

वर्तमान में इंदरगंज स्थित जिला न्यायालय के लिए स्थान की कमी के चलते न्यू कलेक्ट्रेट के पास जमीन दी गई थी। यह भवन 25 करोड़ रुपए में तैयार होना था इसके लिए 2004 में निर्माण कार्य शुरू हुआ जब भविष्य की आवश्यकताओं को देखते हुए यह निर्माण नहीं हो रहा था तब एडवोकेट आनंद भारद्वाज ने एडवोकेट राजू शर्मा के माध्यम से हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका 2009 में प्रस्तुत की इस याचिका से हुआ यह कि जिला न्यायालय के लिए और जमीन भी मिली क्योंकि जितनी जमीन इसे मिल रही थी वह काफी कम थी। इसके अलावा आस-पास की और भी जमीन जिला न्यायालय को मिले इसके निर्देश दिए गए है। जिस प्रकार जिला न्यायालय में न्यायालयों की संख्या बढ़ी है उसे देखते हुए यह जरूरी है। इस जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने जिला न्यायालय में प्रकरणों की संख्या को देखते हुए स्टॉफ, अधिवक्ता और पक्षकारों की संख्या को देखते हुए यहां मल्टी लेवल पार्किंग बनाए जाने का आदेश भी दिया था। इस आदेश पर यहां मल्टीलेवल पार्किंग भी बनाई जा रही है।

न्यायालय के लिए बनाए बड़े कक्ष
नए न्यायालय भवन में इंदरगंज स्थित जिला न्यायालय के कोर्ट रूम से बड़े कोर्ट रूम बनाए गए है। यहां ये कक्ष भविष्य की आवश्यकताओं को देखते हुए बनाए गए है।

फॉल्स सीलिंग का काम शुरू
नए जिला न्यायालय भवन में इस समय ग्रेनाइड और फॉल्स सीलिंग का काम चल रहा है। इसके अलावा इस भवन में दरवाजे खिडकियां और जालिया लगाई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.