कितने राज्यों को पहुंचाई मदद, प्रधानमंत्री ने राज्यों से मांगी पूरी रिपोर्ट

नई दिल्ली. भाजपा ने लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंदों और प्रवासी मजदूरों की सहायता कार्यों का हिसाब राज्य इकाइयों से मांगा है ताकि स्टेट यूनिट के कार्यों का मूल्यांकन किया जा सके। बीजेपी शीर्ष नेतृत्व ने 7 दिनों का मौका सभी राज्य इकाइयों को दिया है इस बीच पार्टी ने रिपोर्ट उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।
केंद्रीय मुख्यालय में ये रिपोर्ट 7 दिनों के अंदर मांगी
जानकारी के अनुसार केंद्रीय मुख्यालय में ये रिपोर्ट 7 दिनों के अंदर देने को कहा गया है। इस रिपोर्ट में कई सवालों का जवाब देना होगा। मसलन, कितने जरूरतमंदों को भोजन किया गया, कितनों को राशन बांटा गया इसके अलावा प्रत्येक राज्य इकाई ने कितने मास्क या फेस कवर बांटे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी कार्यकर्ताओं से पीएम केयर में दान की अपील की थी। प्रत्येक राज्य इकाइयों को यह भी बताना होगा कि स्टेट के कितने कार्यकर्ताओं ने पीएम केयर में दान किया।
आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड कराने का भी पार्टी मुख्यालय ने हिसाब मांगा
इसके अलावा पार्टी कार्यकर्ताओं ने कितने लोगों के मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड कराया इसका भी पार्टी मुख्यालय ने हिसाब मांगा है। वहीं महानगरों से सैकड़ों किमी दूर गांव जाने के लिए पैदल निकले प्रवासी मजदूरों पर काफी राजनीति हुई। विपक्ष ने इसे मुद्दा बनाया जिसके बाद पार्टी ने प्रवासी मजदूरों की सहायता का भी निर्देश दिया था। कितने स्थानों पर राहत कार्यों का संचालन हुआ पार्टी ने इसका भी जवाब मांगा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *