26 मई को हैं बुद्ध पूर्णिमा, जाने भगवान की बुद्ध की अनमोल शिक्षायें

नई दिल्ली. भगवान बुद्ध का जन्म वैशााख पूर्णिमा के दिन हुआ था इसीलिये इसे बुद्ध पूर्णिमा कहते हैं। भगवान बुद्ध के अनुयायियों के लिये यह सबसे बड़ा पर्व होता है। इसी दिन भगवान बुद्ध को बोधि वृक्ष के नीचे ज्ञान की प्राप्ति हुई थी। और इसके बाद से ही उन्हें बुद्ध कहा जाने लगा था। इस वर्ष 26 मई बुधवार को यह पर्व मनाया जायेगा।
भगवान बुद्ध ने दी कई अहम सीख
भगवान बुद्ध ने अपने जीवन काल में बहुत यात्रायें कीं और लोगों को कई शिक्षायें दीं। वह और उनके शिष्यों की टोली गांव-गांव में जाकर ठहरती थी और लोगोंको धर्म सच्चाई, ईमानदार के मार्ग पर चलने के लिये प्रेरित करती थी। उन्होंने अपनी शिक्षाओं से लोगों के जीवन में कई परिवर्तन लाये। जिसकी कहानियां मशहूर है। गौतम बुद्ध की कुछ ऐसी ही अहम शिक्षाओं को जानते हैं।

खुशियां बांटने से बढ़ती हैं

भगवान बुद्ध ने कहा है कि खुशियां हमेशा बांटने से ही बढ़ती हैं। यह वैसा ही है जैसे एक दीप से कई दीप जलाए जाएं, तो इससे उजाला तो बढ़ता है लेकिन जिस दीप से इतने दीप जलाए गए उसका प्रकाश भी कम नहीं होता है।

क्रोध की आग सबसे पहले आपको ही जलाती है

क्रोधित रहना वैसा ही है, जैसा अपने हाथ में गर्म कोयला लेकर चलना क्‍योंकि क्रोध की आग सबसे पहले आपको ही जलाती है। लिहाजा क्रोध से बचें और हमेशा खुश रहने की कोशिश करें।  स्‍थायी खुशी के लिए मन का साफ और अच्‍छा होना जरूरी है।  सभी के लिए दिल में प्‍यार रखने वाला इंसान कभी क्रोधित नहीं होता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *