पुलिस ने भिंड में 2 टन मिलावटी पकड़ा, बस से हर रोज झांसी सप्लाई हो रहा था मावा

भिंड. दीपावली त्योहार नजदीक आते ही मिलावटी मावा का कारोबार जोरों पर है। लहार एसडीओपी अवनीश बंसल ने रविवार को दबोह कस्बे के तरनपुरा तिराहे के पास से 2 टन मावा की खेप पकड़ी है। इसे बस से झांसी ले जाया जा रहा था। यह मावा प्रथम द्रष्टिया अमानक माना जा रहा है, फिलहाल फूड विभाग के अफसर इसकी सैंपलिंग करेंगे तब इसकी पुष्टि हो सकेगी। अब तक भिंड के अटेर और मेहगांव क्षेत्र में मावा पकड़े जाने की खबर आ रही थी, लंबे समय के बाद लहार क्षेत्र में मावा की बड़ी खेप पकड़ी गई। यह मावा सुबह 5 बजे से गांव से कारोबारी लेकर आने लगते थे जो लहार, चौरई से रावतपुरा, यूपी के नदी गांव कोच से सटे हुए गांव के रास्ते होकर झांसी जाती है।

यहां से हर रोज बढ़ी तादाद मावा जाता है
इस बस में एमपी और यूपी के सटे हुए गांव के कारोबारी झांसी के लिए मावा को लोड करते है। यह कारोबार में बस कंडक्टर संलिप्त होना बताया जा रहा है। यहां से हर रोज बढ़ी तादाद मावा जाता है, जो आखिर खेप रतनपुरा तिराहे पर लोड होती है। यह बात की पक्की सूचना होने पर लहार एसडीओपी बंसल ने फील्डिंग जमाई इसके बाद रतनपुरा के पास छापामार कार्रवाई कर 62 डलिया मावा की पकड़ी है, जिनमें करीब 2 टन मावा है। प्रत्येक डलिया में 30 से 50 किलो मावा है। इस कार्रवाई में एक युवक राजकिशोर पुत्र रामस्वरूप पाठक निवासी गिदवासा थाना नदीगांव को पुलिस ने पकड़ा है।

रात में ही कर रहे थे गश्त
दरअसल, एसडीओपी बंसल की शनिवार की रात्रि गश्त थी। रात्रिकालीन गश्त के बाद लहार से जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस कंपनी की बस में मावा की बड़ी खेप झांसी जाने की सूचना सुबह पांच बजे मिली। इस सूचना पर एसडीओपी भिंड से करीब 90 किलोमीटर दूर रतनपुर पहुंचे। यहां पुलिस के कुछ जवानों के साथ रतनपुरा तिराहे से दूर आलमपुर की तरफ जाकर रुक गए। वहीं एक मुखबिर को तिराहे पर बैठाया। जैसे ही रतनपुरा पर मावा लोड हुआ और आगे बड़ी वैसे ही मुखबिर की सूचना पर पुलिस पहुंच गई। पुलिस को देखकर मावा कारोबारी भाग खड़े हुए। हालांकि सभी सादा ड्रेस में थे। इसके बाद मावा को बस के ऊपर से उतरवाया और कंडक्टर को पूछताछ के लिए बैठा लिया गया है। इसके बाद पुलिस ने बस जाने दी।  

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *