QCFI – में मेरी प्राथमिकता हमेशा ग्वालियर रहेगा-अविनाश मिश्रा

ग्वालियर. मैं लोगों की कीमत समझता हूं और लोग मेरी कीमत समझते है मैं पिछले 30 वर्षो से जुड़ा हूं, आज से 30 वर्ष पूर्व मैं चेम्बर ऑफ कॉमर्स के सभागार में क्वालिटी सर्किल फोरम ऑफ इंडिया (QCFI) के ग्वालियर चेप्टर के मिस्टर हुडप्पा को सुनने के लिये गया था। मैंने 1992 में गोदरेज ज्वाइन किया था। QCFI  के पायनियर बना है और एक समय में गोदरेज के कार्यक्रम ही QCFI  का कार्यक्रम हुआ करता था। लोग आते गये और कांरवां बढ़ता चला गया, ग्वालियर चेप्टर ने मेरा साथ और मुझे मौका दिया इस वजह से इस मंजित तक पहुंचा। जिस तरह में अपने आपके सामने प्रस्तुत कर पाया हूं। यह उद्गार निजी होटल में आयोजित वार्षिक सामान्य सभा की मीटिंग को क्वालिटी सर्किल फोरम ऑफ इंडिया नवनियुक्त राष्ट्रीय अध्यक्ष अविनाश मिश्रा संबोधित कर रहे थे।


QCFI  के वार्षिक सामान्य सभा की बैठक में एसपी बिन्दल, राजेश्वरी सावंत, योगेश उपाध्याय, आशीष वैश्य, एलएन सागर, जयराम मिश्रा, थामस मैथ्यूज, बीएम चौकसे (पद्मश्री) अजय शर्मा, रवि तिवारी, संदीप केतकर संदीप बेहरा अक्षय भटनागर, श्रीमति छाया मिश्रा, समीर सेठ और एमएसएमई के एसएम ताहिर आदि लोग उपस्थित रहें।


इन्होंने किया संबोधित
एमएसएमई के एसएम ताहिर ने कहा है कि हमारा 1 वर्ष में 1 लाख लोगों एसएमएमई के मिशन में शामिल करने का लक्ष्य है। रिसर्च और बेहतर क्वालिटी के लिये कार्य कर रहा है। प्रॉडक्ट की क्वालिटी, प्रॉडक्ट की लाइफलाइन है।

राजेश्वरी सावंत बोली हम ने हमारे स्कूल में सबसे पहले CBSE  का पाठ्यक्रम लागू किया था और हम क्यूसीएफआई की क्वालिटी का ध्यान रखते हुए क्वालिटी एज्यूकेशन पर हमारा फोकस है बेहतर क्वालिटी एज्यूकेशन के छात्र मिले।
प्रो. योगेश उपाध्याय ने कहा है कि हम जीवाजी विश्वविद्यालय के एमबीए पाठ्यक्रम क्वालिटी एज्यूकेशन दे रहे हैं जिससे छात्रों को भटकना नहीं पड़े उन्हें तत्काल रोजगार मिले इस पर हमारा ध्यान है। हमारे कुलपति प्रो. अविनाश तिवारी नई शिक्षा कॉलेज पर लागू करने जा रहे है। हमारी शिक्षा रोजागारन्मुखी हो।
आशीष वैश्य ने कहा है कि QCFI  के फाउण्डर राहुल बजाज पर हम सभी गर्व करते हैं। क्यूसीएफआई की बागडोर अविनाश मिश्रा के हाथों में 3 वर्ष के लिये सुरक्षित है। MSME आर्थिक नीति की रीड़ की हड्डी है। हमें एमएसएमई पर फोकस करना होगा।
बनवारीलाल चौकसे (पद्मश्री) ने कहा QCFI  के भोपाल चेप्टर के अध्यक्ष है सूर्य उगते और डूबते समय लाल दिखाई देता है। अब QCFI  में मध्यप्रदेश की अनदेखी नहीं की जायेगी। लगतार पिछले 5-6 वर्ष सम्मेलन किये जा रहे है 2007-2022 के व्यवहार से कोई फर्क नहीं पड़ता है लेकिन आपको QCFI  के निर्विरोध राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाये जाने पर मुझे बहुत प्रसन्नता है।
एसपी बिन्दल ने कहा है कि क्वालिटी जिन्दगी का हिस्सा है 39 वर्षो में प्रॉडक्ट की क्वालिटी में सुधार हुआ है उसका श्रेय QCFI  को जाता है। मैनेजमेंट को डाग्योनेस करने की जरूरत है।
QCFI  के राष्ट्रीय अध्यक्ष अविनाश मिश्रा ने कहा है कि QCFI  का काफी विकास हुआ है मेरी प्राथमिकता मे ंहमेशा ग्वालियर और मध्यप्रदेश रहेगा। ग्वालियर में नेशनल कन्वेंशन करेगा और गांव के बच्चे निकलकर आगे आये। मैं उन्हें देखकर काफी खुश होता हूं स्वीपर जिस तरह से प्रेजेटेंशन करते जब हमारे आयोजक उन्हें गले लगाते तो मुझे बहुत खुशी होती है। QCFI  के मिशन को लेकर मैं प्रतिनिधि मण्डल के साथ PM नरेन्द्र मोदी से मिलने वाला हूं और मिशन के बारे में उन्हें कन्वेंस करने का प्रयास करूंगा।
डॉ. रवि तिवारी ने कहा है कि सिक्यूरिटी एजेंसीज अब उद्योग का रूप लेने जा रहे है। सिक्यूरिटी की सुरक्षा की क्वालिटी को सुधारने का प्रयास कर रहा हूं।
कार्यक्रम का बहुत ही शानदार संचालन सुचेता लाहा ने और आभार अक्षय भटनागर ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.