ग्वालियर में जीजा ने 5 लाख के लिए मर्डर किया, दादा के निधन के बाद 15लाख रुपए मिले थे

ग्वालियर. दादा की हादसे में मौत के बाद मिले 15 लाख रुपए पर दामाद लालच में आ गया और उसने साले को घुमाने के बहाने जंगल में ले गया और उसकी गला घोंट कर हत्या कर दी। साले के मोबाइल से परिवार वालों को फोन करके 5 लाख रुपए फिरौती मांगी, फिरौती की मांग आते ही अफसर अलर्ट हुए और छात्र का सुराग लगाने के लिए क्राइम ब्रांच और भितरवार थाना पुलिस की दो टीमें बनाईं। पड़ताल में जुटी टीमों ने मात्र कुछ ही घंटों मंे किशोर का शव बरामद कर आरोपी को दबोच लिया।

क्या है पूरा मामला
एएसपी देहात जयराज कुबेर ने बताया कि भितरवार थाना क्षेत्र के वार्ड क्रमांक नौ रावत कॉलोनी निवासी पुष्पेन्द्र रावत पुत्र रामाधार सिंह रावत (17) मंगलवार की सुबह घर से निकला था। उसके बाद वह देर रात तक वापस नहीं आया तो परिजनों ने उसकी तलाश की, लेकिन उसका कहीं पर पता नहीं चला। इसके बाद बुधवार शाम करीब पांच बजे पिता के मोबाइल नंबर से कॉल आया और कॉल करने वाले ने पुष्पेन्द्र को जान से खत्म करने की धमकी देकर पांच लाख रुपए की फिरौती मांगी। फिरौती का कॉल आते ही परिजन थाने पहुंचे और मामले की शिकायत की। मामले का पता चलते ही वरिष्ठ अफसर भी मौके पर पहुंचे और जांच पड़ताल में जुट गए।

15 लाख मिले थे मृतक के परिवार को
पूछताछ में आरोपी ने बताया कि कुछ माह पूर्व पुष्पेन्द्र के बाबा का देहांत हुआ था।परिवार को सहायता के रूप में पंद्रह लाख रुपए मिले थे। इन्ही रुपयों के लालच में वह पुष्पेन्द्र को नरवर किला और मड़ीखेड़ा डैम घुमाने का झांसा देकर ले गया। जंगल में उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने मड़ीखेड़ा से पुष्पेन्द्र का शव बरामद कर आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। एसपी अमित सांघी ने जानकारी देते हुए बताया है कि साले की पांच लाख रुपए के लालच में अपहरण कर हत्या करने वाले आरोपी बहनोई को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.