चम्बल पुल 6वें पिलर की रोलर बियरिंग टूटी, भारी वाहनों का आवागमन रोका गया, मेंटेनेंस के लिये 15 दिन लगेंगे

ग्वालियर. चंबल संभाग के भिण्ड और ग्वालियर को जोड़ने वाले चंबल पुल एक फिर क्षतिग्रस्त हो गया है। बुधवार की रात से ही इस पर भारी वाहनों का आवागमन रोक दिया गया है। अब पुल की मरम्मत के लिये इटावा के राष्ट्रीय मार्ग खण्ड लोक निर्माण विभाग के अधिकारी एक्सपर्ट टीम को बुला रही है। ऐसे में लगभग 15 दिन तक भिण्ड से इटावा की तरफ जाने वाले वाहन फूप से ही छूछरीए हनुमंतपुरा चौराहा के लिये डायवर्ट होंगे।
5 माह पूर्व पुल की क्षमता की टेस्टिंग कराई थी
आपको बता दें 45 वर्ष पुराने इस चम्बल पुल पर लगातार भारी वाहनों के आवागमन के चलते उसका दम निकलने लगा है 5 माह पूर्व ही इटावा के राष्ट्रीय मार्ग खण्ड लोकनिर्माण विभाग ने इस पुल की क्षमता की टेस्टिंग कराई थी। यह काम मुंबई की कैब कंपनी ने किया था। तब सामने आया था कि पुल के कुछ पिलर और गाडर में दरारों के साथ उनमें सीमेंट झड़ने की बात सामने आई थी। इनकी मरम्मत के लिये पुल पर भारी वाहनों को रोकने की चर्चा आई थी। लेकिन उस समय ऐसा कुछ नहीं हुआ।
6 वें पिलर की रोलर बियरिंग टूटी
अब बुधवार को इटावा की तरफ से छठवें पिलर की रोलर बियरिंग टूट गयी है। जिससे एक स्लैब हल्की.सी नीचे की ओर धसक गयी। यह जानकारी मिलने पर इटावा के राष्ट्रीय मार्ग खण्ड लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने तत्काल पुल पर भारी वाहनों के लिये इटावा कलेक्टर को पत्र भेजा हैए वहीं इटावा कलेक्टर बुधवार की रात से ही पुल पर वाहनों का प्रवेश निषे़द्य किये जाने के आदेश दे दिये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.