आपको जो वेतन में पैसा मिल रहा है उसके पीछे यूनियन की ताकत है-अरूण भोगलीवाल

ग्वालियर. जो पैसा आपको वेतन में मिल रहा है उसके पीछे यूनियन की ताकत है और बदले में बैंक आपसे जमकर काम ले रहा है जैसे कि केश काउंटर, गोल्ड लोन, कैश मैनेजमेंट और कस्टमर की देखभाल के लिये आपको सुबह से शाम तक जुटे रहना पड़ा रहा है और दिनों दिन स्टाफ संख्या में तेजी से कमी आ रही है। जैसे कि आज कहीं भी एजीएम हो रही होती है तो मंच पर बैठे यूनियन के नेता सामने 5 हजार लोग नारे लगा रहे होते हैं तो एजीएम समझ जाता है कि नेता के पीछे 5 हजार बैंक कर्मचारी हैं बैंक चलाना है तो इससे मिलकर रहना होगा। यह उद्गार जीवाजी विश्वविद्यालय के गालाव सभागार में आयोजित समारोह में ऑल इंडिया स्टेट बैंक ऑफ इंडिया स्टाफ फेडरेशन में अध्यक्ष पर पर मनोनीत पर प्रथम बार ग्वालियर पर आयोजित स्वागत समारोह को संबांेधित करते हुए कॉमरेड अरूण भोगलीवाल ने कहीं। इस मौके पर प्रशांत खरे, अध्यक्ष नवीन शर्मा और हर्ष अरोरा ने भी संबोधित किया। मंच पर उपस्थित पदाधिकारियों का महासचिव रहीम खान ने शॉल और श्रीफल से स्वागत किया। स्वागत समारोह में शामिल होने के लिये सिर पर शानदार पगड़ी लगाये खुली जीप में बैठे और चारों ओर पटाखों की गूंजती आवाज के बीच सिटी सेंटर से जीवाजी विश्वविद्यालय के गालव सभागर पहुंचे जहां पर उन्हें लड्डुओं से तौला गया।
फैडरेशन के अध्यक्ष अरूण भोगलीवाल ने कहा कि हमारे साथी तेजी से रिटायर हो रहे हैनये लोगों का समय आ रहा है इसमें भी महिलाओं की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अब आगे आपको यूनियन मजबूत करने के लिये आगे आना होगा। आपसे मिलने वाला पैसा (चंदा) को हम संगठन की शक्ति को बढ़ाने में खर्च कर रहे हैं। बैंक में स्टाफ की संख्या दिनों -दिन कम हो रही है आप कल्पना करिये बैंक आपसे क्या -क्या काम लेने वाला है। आगे आने वाले समय में जिस तरह मैं लड़ रहा हू अब आगे डाटा बैंक की जरूरत होगी। बैंक आपको पैसा देने के लिये तैयार है इसकी वजह है मजबूत यूनियन इसलिये आपको एकता बनाने की जरूरत है।

लड्डूओं से तौला गया अरूण भोगलीवाल
प्रथम बार ग्वालियर में पधारने पर अरूण भोगलीवाल का गालव सभागार के मुख्य द्वार पर महासचिव रहीम खान ने अपने साथियों के साथ बड़ा हार पहनाने के बाद लड्डूओं से तौला गया और वहीं लड्डूओं के पैकेट आंचलिक सम्मेलन में शामिल होने के आये बैंक कर्मियों के बीच में वितरित कर दिये गये।


विदाई समारोह में बोले हर्ष अरोरा
यूनियन के नेता हर्ष अरोरा ने कहा कि आज मैं जहां पर भी हूं साथियों आपकी सबकी वजह से हूं। मैने 1986 को मैनपुरी की एसबीआई ब्रांच में ज्वाइन किया था। मैंने पहले दिन से आज तक अरूण भोगलीवाल को संघर्ष करते हुए देखा है मैने वह दौर भी देखा है जब छोटे-छोटे अधिकारी बेंक कर्मचारी को आंखे दिखाते थे मजबूत यूनियन की वजह से काफी बदलाव देखने में आया हैं मैं इस महीने की 31 अक्टूबर को सेवा निवृत्त होने जा रहा हू। मैं आज जिस सोपान पर पहुंचा हूं उसमें आप सब का प्यार हैं।


इनका हुआ सम्मान
अध्यक्ष अरूण भोगलीवाल का सम्मान समारोह और बैंक अधिकारी हर्ष अरोरा के विदाई समारोह में महासचिव रहीम खान की अगुआई में प्रमोद पाठक, प्रवीण पांडे, नरेश साहू, महेश जोशी, आरके सिंह, आरपी गौतम, हेमंत गोस्वामी, एके मित्तल, जीडी गोयल, डीपी गोयल, सुरेश मखजानी, संजय जैन, डीके राजौरिया, आनंद सक्सैना, अनिल श्रीवास्तव, केशवलाल शिवहरे और रामनिवास शर्मा आदि का शॉल और श्रीफल से सम्मान किया गया। कार्यक्रम का संचालन मंजू भगत ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *