शादी से मना करने भोपाल के आरएसएस कार्यालय में पदस्थ एसएएफ जवान ने घर में घुसकर की फायरिग, लड़की के भाई की मौत और मां घायल

भोपाल. मप्र में भोपाल के शाहपुरा थाना क्षेत्र में स्पेशल आर्म्ड फोर्स (एसएएफ) के आरक्षक ने देर रात को एक घर में घुसकर अंधाधुंध गोलीबारी कर दी है। जिसमें एक युक की मौत हो गयी है जबकि उसकी मां गंभीर रूप से घायल हो गयी है। मृतक की बहन से जवान का रिश्ता तय हो चुका था। लेकिन लड़की ने शादी से मना कर दिया तो उसका कहना था कि आरोपी सिरफिरा है। रिश्ता तोड़ने का कारण से ही वह नाराज था।
आरोपी युवक को ऑफिस स्टाफ के साथ नहीं था पसंद
एएसपी राजेश भदौरिया ने बताया कि आरोपी युवक का नाम अजीतसिंह चौहान है। लड़की प्रायेट जॉब करती है और उसे काम के सिलसिले में स्टाफ के साथ बाहर जाना पड़ता था। आरोपी को यह कतई पसंद नहीं था और वह ऑफिस स्टाफ से फोन पर बात करने से भी मना करता था। पिछली रात भी झगड़ा इसी बात पर शुरू हुआ था। लड़की उससे शादी नहीं करना चाहती थी, लेकिन रिश्ता नहीं तोड़ा था।
आरोपी कांस्टेबल और गार्ड कमांडर दोनों निलंबित
आरोपी जवान अजीत चौहान की अरेरा कॉलोनी स्थित आरएसएस कार्यालय समीधा पर पदस्थ था और ड्यूटी के बाद उसे रायफल गार्ड कमाण्डर चन्द्रभूषण पाराशर के पास जमा करनी थी। लेकिन उसने ऐसा नहीं किया और वह देर रात रायफल लेकर लड़की के घर जा पहुंचा। वहां झगड़ा होने पर उसने लड़की के परिार पर फायरिंग शुरू कर दी। इस मामले में आरोपी कांस्टेबल और गार्ड कमाण्डर दोनों को निलंबित कर दिया गया है।
पीडि़ता लड़की ने बताया कि पिछले वर्ष 21 अक्टूबर को कांस्टेबल अजीत से उसकी सगाई हुई थी 2 माह बाद मई में शादी होना तय थी। लड़की का आरोप है कि अजीत की हरकतें मनोरोगियों की तरह थी और वह धमकाता था तो कई बार दोस्तों और रिश्तेदारों को फोन करके परेशान करता था।

लड़की से सवाल किया- मुझसे शादी करोगी या नहीं-अजीतसिंह चौहान
मंगलवार रात 11:30 बजे अजीत लड़की के घर पहुंचा। सीधे लड़की के कमरे में गया और सवाल किया- मुझसे शादी करोगी या नहीं? लड़की ने कहा- अभी आप यहां से चले जाएं और परिवार को साथ लेकर आएं तभी बात होगी। इस पर अजीत बिफर गया और गोलियां दागनी शुरू कर दीं। उसने करीब 10 राउंड फायर किए। एक गोली लड़की के भाई रितेश को और एक मां जानकी को लगी। लड़की और उसके पिता ने अजीत से राइफल छीनी और उसे किचन में बंद कर दिया। उन्होंने भाई और मां को प्राइवेट हॉस्पिटल पहुंचाया। यहां भाई को मृत घोषित कर दिया गया, जबकि मां की हालत स्थिर बनी हुई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *