8 घंटे में 9 मौत – कोटा के एनआईसी में ईसीजी मशीन का चार्जिंग खराब, बच्चा वार्ड में नर्सिंग स्टाफ सोता मिला

कोटा. जेके लोन अस्पताल में 9 दिसंबर को 8 घ्ंाटे में 9 नवजातों की मौत का मामला सामने आने के बाद सरकारें तमाम दावें करती रहीं, लेकिन हालात नहीं बदले और 10 दिसंबर को अस्पताल पहुंचे तो नजारा चाैंकाने वाले थे। अस्पताल में स्टाफ सोता मिला।
इस बीच जेके लोन अस्पताल में नवजातों की मौत चिकित्सा व्यवस्थाओं की समीक्षा को लेकर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने अपने निवास पर जिला कलेक्टर एवं चिकित्सा अधिकारिओं की बैठक बुलाई है। पडताल में सामने आया कि एनआईसीयू में ईसीजी मशीन का चार्जिंग सिस्टम खराब है। चार्जर खराब होने से मशीन बंद है। गायनिक वार्ड से पोर्टेबल मशीन मंगवाकर ईसीजी किया जा रहा हैं। नियोनेटल इंटेसिव केयर यूनिटी (एनआईसीयू) मेें एक वार्मर पे 2 से 3 नवजात थे। उपर चाइल्ड वार्ड के नर्सिंग रूम में एक कर्मी सोता हुआ मिला। ई-पीआईसीयू में नर्सिंगकर्मी तैनात मिला। पास में बने जनरल वार्ड में एक भी नर्सिंब स्टाफ नहीं था। वार्ड में तीन पुरूष सोते हुए मिले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *