सुपर स्पेशियलिटी .2 महिला डॉक्टर ने बिना पीपीई किट पहने 9 कोरोना मरीजों को में जलने से बचाया

ग्वालियर. ग्वालियर के जयारोग्य के कोविड सेंटर में दोपहर आग लग गई, यहां 9 कोरोना मरीज भर्ती थे। हॉस्पिटल के डॉक्टरों और स्टाफ की बहादुरी से सभी मरीजों को बचा लिया गया है, दोपहर करीब 2 बजे आग की सूचना मिलते ही दो महिला डॉक्टर तुरंत वार्ड में पहुंची और पीपीई किट पहनने का वक्त तक नहीं था तो बिना किट रेस्क्यू में जुट गई साथ-साथ दूसरे डॉक्टरों और स्टाफ को भी बुला लिया। इस आग में 9 मरीजों में से 2 मामूली तौर पर झुलसे है और सभी को दूसरी जगह शिफ्ट करने के बाद आग पर काबू पा लिया गया है इसके साथ ही एक वेंटिलेटर इस आग में जल गया।
डॉ. नीलिमा टंडन व नीलिमा सिंह तुरंत चौथी मंजिल पर पहुंची
जानकारी के अनुसार शॉर्ट सर्किट की वजह से अस्पताल की चौथी मंजिल पर स्थित आईसीयू में आग लगी इसका पता चलते ही सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल की नोडल अफसर नीलिमा टंडन और नीलिमा सिंह तुरंत चौथी मंजिल पर पहुंची। पीपीई किट पहनने का वक्त नहीं था। मरीजों की जान बचाने की खातिर दोनों डॉक्टरों ने बाकी स्टाफ और डॉक्टरों को बुलाया और खुद बिना किट पहले मरीजों की जान बचाने में जुट गई। इसी तेजी के चलते सभी मरीजों को बचा लिया गया। इस रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान एक जूनियर डॉक्टर की तबीयत बिगड़ गई जिससे उसे आईसीयू में भर्ती करवाया गया और अब वह खतरे से बाहर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *