3 ब्लैक बक के 3 धडों को तलाशने में जुटी स्निफर डॉग की गैलेलियो और टीना, एसटीआर की टीम जुटी जंगल सर्चिंग

गुना. 3 पुलिसकर्मियों की मौत के मामले में ब्लैक बक के 3 धड़ गायब है। इन्हें तलाशने के लिये होशंगाबाद हके सतपुड़ टाइगर रिजर्व और सागर से स्निफर डॉग स्क्वॉड बुलाये गये है। गैलीलियो और टीना नाम के यह डॉग आरोन के जंगल में सर्चिग कर रहे हैं। वनविभाग के रेंजर सुधीर शर्मा ने बताया है कि घटना के बाद घटनास्थल से ब्लैक बक यानी काले हिरणों के शव और अवशेष मिले थे। उनकी सर्चिंग चल रही है और इसके लिये सागर और होशंगाबाद सतपुड़ा टाइगर रिजर्व की डॉग स्क्वॉड की टीमें आयी है। 8 टीमें सर्चिंग में लगाई गयी थी। गुना के सभी रेंजर्स के नेतृत्व में टीमों ने अलग-अलग रास्तों पर सर्चिंग की थी। लेकिन अभी तक सफलता नहीं मिली है। लगातार प्रयास जारी है कि उनके अवशेष जल्द मिल जायें।

जंगल मे सर्चिंग करती वन विभाग की टीम।
ब्लैकबक के 3 धड़ों के सर्चिंग जारी
श्रेंजर ने बताया है कि घटना के बाद घटनास्थल से 3 ब्लैक बक के सिर, एक मादा ब्लैक बक का सिर और शरीर, एक मोर मिला था। 3सिरों के धड़ गायब है। उनकी की तलाश की जा रही है। वन विभाग के अधिकारियों के अनुसार जंगल में काले हिरण नहीं होते हैं। यह खेती और मैदानी इलाकों में ही पाये जाते हैं। क्योंकि वहां पानी और खाना आसानी से उपलब्ध हो जाता है। इसलिये इन शिकारियों ने संभवतः भादौर इलाके या उसके आस-पास से ही हिरणों का शिकार किया होगा। उस बेल्ट में ही बड़ी संख्या में हिरण पाये जाते हैं।
यह है पूरा मामला
आपको बता दें कि 13-14 मई की दरमियानी रात हिरणों के शिकार को लेकर शिकारियों और पुलिस के बीच मुठभेड हुई थी। शिकारी हिरणों औरा मोर का शिकार कर गांव ले जा रहे थे। इसी बीच शहरोक और सगा बरखेड़ा के बीच मुठभेड़ हुई थी। इसमंें 3 पुलिसकर्मी शहीद हो गये थे। वहीं, एक शिकारी घटनास्थल पर ही मारा गया था। पुलिस ने अभी तक तीन आरोपियों को एनकाउंटर में मार गिराया गया है। बाकी 2 फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.