विजयाराजे सिंधिया टर्मिनल पर कार्गो विमान उतारने की तैयारी, एविएशन सिक्यूरिटी की टीम सर्वे आयेगी

ग्वालियर. ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट बनाने से पूर्व नगर विमानन निदेशालय (डीजीसीए) राजमाता विजयाराजे सिंधिया एयर टर्मिनल पर कार्गो विमान उतारने की तैयारी चल रही है। कार्गो विमान स्पाइस जेट द्वारा चलाया जायेगा। इससे शहर में उद्योग को बढ़ावा मिलेगा। कच्चा माल ग्वालियर कम समय में आने के साथ ग्वालियर से जा सकेगा। कार्गो विमान उतारने से पूर्व ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन सिक्यूरिटी (बीबीएस) की टीम गुरूवार को भोपाल से सर्वे करने के लिये आ रही है। यह टीम 2 दिन एयरपोर्ट पर रूककर सर्वे करेगी और यह देखेगी कि कार्गो विमान एयरफोर्स की पट्टी पर उतारा जा सकता है या नहीं। कार्गो विमान की लम्बे समय से मांग यहां के व्यापारी कर रहे हैं। लेकिन तेजी ज्योतिरादित्य सिंधिया के नागरिक उड्डयन मंत्री बनने के बाद आयी है।
नये एयरपोर्ट की संभावनायें तलाश रही एएआई
एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) की टीम ग्वालियर में ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट की संभावनाओं को लेकर साड़ा की जमीन की जमीन देख चुका है। एएआई ने ग्रीन टर्मिनल के लिये एक हजार एकड़ जमीन मांगी है। इसके साथ ही एयर टर्मिनल के विस्तार के लिये आलू अनुसंधान की 40 हैक्टर जमीन पर नये एयर टर्मिनल के निर्माण को लेकर रूचि दिखाई है। अब नागरिक विमानन मंत्रालय तय करेगा कि ग्वालियर में ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट बनाया जाये या फिर एयर टर्मिनल का विस्तार हो।

डबरा में कार्गाे एयरपोर्ट बनाने की कवायद आगे नहीं बढ़ी

लगभग 2 साल पहले डबरा में बंद पड़ी शुगर मिल की जमीन पर कार्गो एयरपोर्ट को लेकर राज्य सरकार ने रुचि दिखाते हुए स्थानीय अधिकारियों से इस जमीन से जुड़ी विस्तृत जानकारी ली थी। इस जमीन पर कार्गो एयरपोर्ट की प्लानिंग 2008 से चल रही है। तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ सरकार में मुख्य सचिव रहे एसआर मोहंती ने कलेक्टर से इस प्रोजेक्ट पर काम करने को कहा था। लेकिन इसके बाद सरकार बदल गई, तब से यह मामला आगे नहीं बढ़ सका।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *