मंत्रिमंडल के विस्तार की अटकलों के बीच सीएम ने मंत्रियों को डिनर पर बुलाया, मंत्रियों को परफारमेंस बतायेंगे

भोपाल. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को मंत्रियों के कामकाज का रिव्यू करने वाले हैं। डिनर के साथ होने वाली इस रिव्यू मीटिंग में मंत्रियों के परफारमेंस पर चर्चा कर मुख्यमंत्री उन्हें उनकी कमियां बतायेंगे। ऐसा माना जा रहा है तकि इस रिव्यू मीटिंग में कमजोर परफारमेंस वाले मंत्रियों को बाहर किये जाने के संकेत भी मिल सकते हैं। इस डिनर मीटिंग के साथ ही अब चुनावी साल में मंत्रिमण्डल विस्तार के कयास तेज हो गये हैं। क्योंकि कोर कमेटी और राष्ट्रीय नेत्त्व से हरी झंडी मिलने के बाद भी गुजरात चुनाव के चलते इस विस्तार को टाल दिया गया था। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएस संतोष और मध्यप्रदेश भाजपा की कोर कमेटी की बैठक पिछले के दौरान पिछले महीनोंमें शिवराज कैबिनेट के विस्तार को सहमति मिली थी। तब यह बात सामने आयी थी कि दीपावली तक मंत्रिमण्डल में खाली पदों की भरपाई नये चेहरों के साथ की जायेगी और कुछ मंत्रियों को हटाने और विभाग बदलने की कार्यवाही भी हो सकती है। इस दौरान गुजरात चुनाव में मंत्रियों और संगठन नेताओं की तैनाती के चलते यह विस्तार रोक दिया गया था। जबकि गुजरात में दोनों चरणों के मतदान हो चुका था। इसके पहले ही सीएम चौहान मंगलवार को मंत्रियों को निवास पर डिनर पर बुला लिया है।

तय हो सकती है मंत्रिमंडल की तारीख
डिनर पार्टी में एससी-एसटी बाहुल्य 82 विधानसभा क्षेत्रों को फोकस कर सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं, पेसा एक्ट के क्रियान्वयन पर चर्चा करने के साथ सीएम मंत्रियों के बारे में खुफिया तंत्र से मिली रिपोर्ट और विभागों में उनके कामकाज पर पकड़ के रूप में परफार्मेन्स से अवगत कराया जायेगा। सूत्रों के अनुसार मंत्रिमण्डल के सदस्यों के साथ डिनर डिप्लोमेसी के बाद विस्तार की तारीख तय की जायेगी। यह विस्तार विधानसभा सत्र के बाद होगा या इसके पहले कियिा जायेगा। इस पर एक दो दिन के अन्दर ही अंतिम निर्णय सीएम चौहान लेंगे। गौरतलब है कि सीएम चौहान पिछले माह भी कैबिनेट बैठक के बाद मंत्रियों के साथ लिंच कर उन्हें उनके परफारमेंस के बारे में अवगत करा चुके हैं।

विधानसभा के शीत सत्र पर भी चर्चा
19 दिसम्बर से होने वाले विधानसभा के शीत सत्र में लाये जाने वाले विधेयकों, विभागों के अनुपूरक बजट को लेकर मंत्रियों की सहमति पर भी चर्चा होगी।

जिलों में करें औचक निरीक्षण और करें कार्यवाही
सीएम इन दिनों जिलों के औचक निरीक्षण और योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाह अधिकारियों पर एक्शन लेने का काम कर रहे हैं। मंत्रियों की परफारमेंस रिव्यू मीटिंग में सीएम उन्हें भी प्रसार के जिलों में इस तरह के निरीक्षण और एक्शन लेने के निर्देश देंगे। इस तरह की कार्यवाही के बाद अधिकारियों के चलते लापरवाह बने सरकारी सिस्टम के कामकाज में कसावट आने का अनुमान हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.