एंटीमाफिया अभियान के तहत 11 करोड़ रूपये माफिया के कब्जे से मुक्त, गेहूं और लूसन की फसल दी उजाड

ग्वालियर. मुरैना में जहरीली शराब से 21 लोगों की मौत के बाद ग्वालियर में भी जिला प्रशान और पुलिस पूरी तरह से अलर्ट हैं। बुधवार की शाम प्रशान ने पुरानी छावनी के जलालपुर में अवैघ शराब की फैक्ट्री को जमींदोज कर दिया गया हैं। यह फैक्ट्री सरकारी जमीन पर चल रही थी। इसके अलावा 20 बीघा सरकारी जमीन भी माफिया से छुडाई गयी है। यहां काफी मात्रा में गेहूं, लूसन और आलू की फसल खड़ी थी। जमीन और मकान की कीमत लगभग 11 करोड़ रूपये बताई जा रही है।
20 बीघा सरकारी जमीन माफिया के कब्जे से मुक्त
प्रशासन लगातार शहर में एंट्री माफिया मुहिम के तहत कार्यवाही कर रहा है। टीम ने एडीएम प्रदीप तोमर के नेतृत्व में जलालपुर के पास 20 बीघा सरकारी जमीन पर अवैध तरीके से लगाई गयी है गेहूं, लूसन, आलू व अन्य सब्जी की फलस को नगरनिगम के मदालखत दते की मदद से नष्ट कराया गया है। जमीन पर कई साल े माफिया कब्जा कर फसल उगा रहे थे। कब्जा करने वाले में किसी रिंकू लोधी का नाम सामने आया है।

शराब की अवैध अड्‌डा भी गिराया

साथ ही, पुरानी छावनी थाना की सूचना पर प्रशासन की टीम ने जलालपुर में ही अवैध शराब के अड्‌डे पर भी कार्रवाई की है। मुरैना निवासी सूरज श्रीवास, उसके साथी हरिओम व कुलदीप श्रीवास ने यहां शराब का अवैध अड्‌डा बना रखा था। दोनों यहां से ग्वालियर और मुरैना में शराब तस्करी कर रहे थे। इन पर कई मामले दर्ज हैं। मदाखलत अमले ने जेसीबी चलाकर जिस मकान में शराब बनाई जाती थी उसे चंद मिनट में जमींदोज कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *