36 लाख रुपए का ड्रोन बनेगा ग्वालियर पुलिस का मददगार, पहला ट्रायल मेले में

ग्वालियर. पुलिस अब 36 लाख रुपए के ड्रोन से शहर की निगरानी कर सकेगी। इस ड्रोन का नाम है- नेत्रा वी-3। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इस ड्रोन को डीआरडीओ द्वारा डिजाइन किया गया है। यह देखने में भारी-भरकम लगता है, इसका वजन करीब डेढ़ किलो है। कुछ समय पहले ही आधुनिक तकनीक से लैस 36 लाख रुपए कीमत का यह ड्रोन ग्वालियर पुलिस को मिला है। इसका पहला ट्रायल इस बार ग्वालियर व्यापार मेले में होगा। भोपाल से एक्सपर्ट आएंगे, जिनकी निगरानी में ही यह ट्रायल होगा। इस संबंध में ग्वालियर पुलिस के अधिकारियों ने एडीजी इंटेलिजेंस से बात की है। जल्द ही भोपाल से एक्सपर्ट आएंगे। ग्वालियर व्यापार मेले में इसका सबसे पहले उपयोग होगा, क्योंकि इस बार मेला कोरोना काल के बाद लग रहा है, जिसमें लोगों की भीड़ उमड़ेगी। इसके चलते ड्रोन का उपयोग सबसे पहले यहां किया जाएगा। इस ड्रोन कैमरा की खासियत है, यह 7 किलोमीटर के दायरे तक उड़ान भरेगा और यहां बारीकी से निगाह रखी जा सकेगी।

4 आरक्षकों को भोपाल भेजकर ट्रेनिंग कराई गई
ग्वालियर सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण होने के साथ ही 2018 में वर्ग संघर्ष और हाल ही में अग्निपथ के विरोध प्रदर्शन के दौरान हाट स्पाट रहा। इसी के चलते अब यहां निगरानी को लेकर विशेष इंतजाम किए जा रहे हैं। ग्वालियर पुलिस को पुलिस मुख्यालय की ओर से 36 लाख रुपए का ड्रोन दिया गया है। आधुनिक तकनीक से लैस यह ड्रोन ग्वालियर आ चुका है। दिखने में भारी-भरकम लगने वाला यह ड्रोन आपरेट करने में सामान्य ड्राेन की तुलना में बहुत ही आसान है। यही इसकी सबसे बड़ी खासियत है। एसएसपी अमित सांघी ने बताया कि ड्रोन ग्वालियर आ चुका है, इस संबंध में ग्वालियर पुलिस की ओर से चार आरक्षकों को भोपाल भेजकर ट्रेनिंग कराई गई। एडीजी इंटेलिजेंस के निर्देशन में ड्रोन को लेकर प्रदेशभर के पुलिसकर्मियों की ड्रोन आपरेटिंग से जुड़ी ट्रेनिंग हो रही है। इसके चलते भोपाल से एक्सपर्ट बुलाए जाएंगे, इसका सबसे पहला ट्रायल मेले में होगा। पहला ट्रायल है, इसलिए भोपाल के एक्सपर्ट की मौजूदगी में ही यह ट्रायल होगा।

नेत्रा वी-3 ड्रोन, जो आधुनिक तकनीक से लैस है ग्वालियर पुलिस को मिला है। जल्द ही इंटेलिजेंस से एक्सपर्ट आएंगे, इनकी निगरानी में ट्रायल होगा। हमारे यहां से पुलिसकर्मी ट्रेनिंग कर आ चुके हैं। यह ड्रोन शहर के संवेदनशील इलाकों में निगरानी करने में मददगार साबित होगा।
अमित सांघी, एसएसपी

Leave a Reply

Your email address will not be published.