सोना तस्करी के मामले में सरगना स्वप्ना सुरेश का बड़ा खुलासा नेता और नौकरशाहों की नींद हराम

केरल. के कई नौकरशाहों और मंत्रियों की रातों की नींद हराम हो गयी है, क्योंकि सनसनीखेज सोना तस्करी के मामले के सूत्र आतंकवाद से जुड़ रहे हैं। मामले की प्रमुख आरोपी स्वप्ना सुरेश से पूछताछ के दौरान कई मंत्रियों और नौकरशाहों के साथ उसके संबंधों का पता चला हैं। स्वप्ना के मोबाइल नम्बर के कॉल डिटेल रिकॉडर््स(सीडीआर) से पता चला है कि स्वर्ण तस्करी की प्रमुख आरोपी राज्य के उच्च शिक्षा और अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री केटी जलील के बराबर संपर्क में थी। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने आरोप लगाया है कि स्वप्ना और उसके साथी संदीप नायर अबतक विदेश से 150 किलोग्राम से अधिक सोने की तस्करी कर चुके हैं, और उसमें से अधिकांश का इस्तेमाल आतंकवाद संबंधित गतिविधियों में किया गया ।

स्वप्ना के हाईप्रोफाइल संपर्क भी सामने आए

जांच के दौरान स्वप्ना के हाईप्रोफाइल संपर्क भी सामने आए हैं । सूत्रों ने कहा कि पिछले कुछ महीनों के दौरान जलील से स्वप्ना की 16 बार टेलीफोन पर बात हुई थी. इसके अलावा मंत्री और नौकरशाह उसके आवास पर बार-बार आते जाते रहे हैं, जिसमें मुख्यमंत्री के तत्कालीन सचिव एम. शिवशंकर भी शामिल थे, जिनसे सीमा शुल्क विभाग के अधिकारियों ने मंगलवार अपराह्न् तिरुवनंतपुरम में पूछताछ की।

सोने की खेप कथित तौर पर छिपाई जाती थी

सूत्रों ने बताया कि सचिवालय के पास स्थित एक फ्लैट स्वप्ना के गोपनीय अभियानों का मुख्य केंद्र था । इस फ्लैट में सोने की खेप कथित तौर पर छिपाई जाती थी, और वहां तस्करों के साथ ही वीआईपी लोग भी जाते थे. इस फ्लैट को यहां खासतौर से इसलिए चुना गया था, ताकि कानून प्रवर्तन एजेंसियों को कोई संदेह न हो । वरिष्ठ आईएएस अधिकारी शिवशंकर इस फ्लैट के अलावा स्वप्ना के आवास पर भी बार-बार आते-जाते थे । उसके घर पर शिवशंकर की उपस्थिति को सत्यापित करने के लिए आवासीय सोसायटी के सीसीटीवी फूटेज मांगे गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *