काम न करने वाले और लापरवाह अधिकारियों का वीआरएस दिया जाये -प्रद्युम्नसिंह तोमर

भोपाल. मप्र के ऊर्जामंत्री प्रधुम्नसिंह तोमर ने मंगलवार कहा है कि ट्रांसफार्मर और मीटर उतने ही खरीदे जाये जितने की आवश्यकता हो। इस बीच उन्होंने सभी वितरण कंपनियों के स्टोर का भी निरीक्षण कराने के निर्देश दिये है। श्री तोमर सिंधिया खेमे के मंत्री है और ग्वालियर से विधायक थे। उन्होंने ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में शामिल होने के बाद साथ ही कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था।
ऊर्जामंत्री ने कहा है कि बिजली से संबंधित नुकसान को कम करने के लिये 90 दिन का लक्ष्य रखें। इस बीच हर छोटी बड़ी कमियों का विश्लेषण कर उन्हें दूर करने का प्रयास करें। उन्होंने कहा हैकि बिजली चोरी रोकने के लिये पेट्रोलिंग बढ़ाये और सभी स्तर के अधिकारी फील्ड में जाये। बिजली मंत्री ने सख्त लहजे में कहा है कि लापरवाह और काम नहीं करने वाले अधिकारी कर्मचारी को वीआरएस दिया जाये।
ऊर्जामंत्री तोमर को सोमवार का ही ऊर्जा मंत्रालय मिला है और वह मंगलवार को मंत्रालय में विभागीय योजनाओं की समीक्षा में निर्देश दिये है। उन्होंने कहा है कि शहरों में शत प्रतिशत घरों में बिजली के मीटर लगाये और इसके साथ ही प्रतिमाह इनकी रीडिंग भी ली जाये। इीससे जहां विद्युत उपभोक्ता संतुष्ट होगा। वहीं कंपनी की आये भी बढ़ेगी । इस बीच शाम को बिजली मंत्री ने भोपाल में एरिया स्टोर का औचक निरीक्षण किया। यहां उन्होंने सामग्री प्रबंधन और गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिये हैं।

आपके मान-सम्मान में कोई कमी नहीं आएगी

मंत्री तोमर ने कहा कि स्टोर में जो सामग्री पड़ी है, उसे फील्ड में भेजें। सामग्री की जरूरत का आकलन बेहतर ढंग से करें। अनावश्यक सामग्री नहीं खरीदी जाए। उन्होंने कहा कि सभी लोग मिलकर उपभोक्ताओं को बेहतर सेवाएं दें। आपके मान-सम्मान में कोई कमी नहीं आने देंगे। कहीं खंभे टेढ़े हैं, तो कहीं तार झूल रहे हैं, ऐसी समस्याओं का त्वरित निराकरण करें। बैठक में प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय दुबे ने विभागीय योजनाओं की जानकारी दी। इस दौरान सचिव आकाश त्रिपाठी, ओएसडी एस.के. शर्मा एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *