Ayodhya -में राम मंदिर निर्माण की ड्रोन से ली गयी नई तस्वीर, कहां तक हुआ निर्माण

अयोध्या. श्रीराम जन्मभूमि मंदिर का प्रथम तल दिसम्बर 2023 तक बनकर तैयार कर लिया जायेग। जनवरी 2024 में रामलला अपने भव्य और दिव्य मंदिर में विराजमान कर दिये जायेंगे। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट अपनी इसी टाइम लाइन को लेकर पूरी तरह से सजग है और निर्माण प्रक्रिया उसी के अनुरूप चल रही है।


श्री रामजन्म भूमि मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने 3 दिसम्बर को ड्रोन कैमरे से खींची गयी एक तस्वीर शेयर की है। ऊपर से ली गयी इन तस्वीरों में साफतौर पर दिखाई दे रहा है कि मंदिर का निर्माण कार्य कहां तक पहुंच चुका है और मौजूदा समय में मंदिर निर्माण की स्थिति क्या है। जबकि 2 तस्वीरें 25 नवम्बर की हैं जो नजदीक से ली गयी है।
ड्रोन से ली गयी फोटो
तस्वीरों की अगर बात करें तो इनमें गर्भ गृह के निर्माण के साथ अब मंदिर के तराशकर गये खड़े किये खम्भे देखे जा सकते हैं। कुल मिलाकर कहें तो तस्वीरें अपनी जुबान में कह रही हैं कि राममंदिर का वह फाउंडेशन तैयार हो चुका है जिस पर अब प्रथम तल के छत के लिये खम्भों का आधार खड़ा किया जा रहा है।
छत के लिये खंभों का आधार हो रहा तैयार
आपको बता दें कि इन खंभों को तराशने का कार्य 1992 से चल रहा था। श्री रामजन्म भूमि कार्यशाला में कारीगर लगातार इनको तराशने में लगे थे और अब उनकी मेहनत और कला के उपयोग का समय आया है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.