जम्मू कश्मीर में बसने वालों को जान से मारने की धमकी टीआरएफ ने

जम्मू कश्मीर. कश्मीर के लिए पाकिस्तान के नए आतंकी समूह (द रेजिस्टेंस फ्रंट) ने गैर कश्मीरियों को अधिवास (डोमिसाइल) कानून के तहत केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में बसने की कोशिश करने पर जान से मारने की धमकी दी है। टीआरएफ को प्रतिबंधित पाकिस्तानी आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का ही मोर्चा कहा जाता है। इसने ऑनलाइन मैसेजिंग प्लेटफॉर्म पर अपने चैनलों के माध्यम से जारी किए गए एक बयान में खुले तौर पर यह धमकी दी है।
कश्मीर में भारतीय आएगा उससे ठीक ढंग से निपटा जाएगा
टीआरएफ ने धमकी देते हुए कहा कि कोई भी भारतीय जो कश्मीर में बसने के इरादे से आएगा वह एक नागरिक के तौर पर नहीं बल्कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक एजेंट के रूप में माना जाएगा और उससे ठीक ढंग से निपटा जाएगा। आतंकी संगठन की ओर से उसके लेटरहेड पर जारी यह धमकी केंद्र सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश के लिए एक नए अधिवास कानून पेश किए जाने के कुछ हफ्तों बाद दी गई है।
नए कानून के तह जम्मू कश्मीर में 15 साल से रहने वाला कोई व्यक्ति या 7 साल तक पढ़ाई करने वाला और केंद्र शासित प्रदेश में स्थित किसी शैक्षणिक संस्थान से कक्षा 10 और कक्षा 12 की परीक्षाओं में शामिल होने वाला व्यक्ति अधिवास प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कर सकता है। इस प्रक्रिया के बाद वह केंद्र शासित प्रदेश का निवासी कहलाएगा। कानून आतंकवाद के कारण विस्थापित हुए और जम्मू कश्मीर में राहत व पुनर्वास आयुक्त (प्रवासी) के यहां पंजीकृत सभी लोगों को भी अधिवास अधिकार प्रदान करता है।
आतंकी समूह ने कहा कि हालांकि वह इस्लाम के सिद्धांतों का पालन करता है और किसी भी परिस्थिति में किसी भी जाति, धर्म या नस्ल के गैर-लड़ाकू-नागरिक को नुकसान नहीं पहुंचाता है लेकिन वह आरएसएस-भाजपा की साजिशों के ढकोसले में नहीं आएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *