सीआपीएफ को 40000 से ज्यादा बुलेटप्रूफ जैकेट व 170 बख्तरबंद वाहन उपलब्ध कराए गए

नई दिल्ली. कश्मीर घाटी में आतंकवाद विरोधी अभियानों और विभिन्न राज्यों में नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई में इस्तेमाल के लिए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआपीएफ) को 40000 से ज्यादा बुलेटप्रूफ जैकेट और 170 बख्तरबंद वाहन उपलब्ध कराए गए है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी और कहा कि केंद्रीय अर्धसैनिक बल को 80 मारूति जिप्सी भी उपलब्ध कराई गई है जिनमें बख्तरबंद सुविधा उपलब्ध कराई गई है इससे जवानों को गोलियों, ग्रेनेड हमलों और पथराव के दौरान बचाव मिल सकेगा।
176 मध्यम बुलेटप्रूफ वाहन को मंजूरी दी गई है
एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बल के लिए 176 मध्यम बुलेटप्रूफ वाहन को मंजूरी दी गई है और इनमें से प्रत्येक में 5-6 सशस्त्र जवान बैठ सकते है। ये वाहन ग्रेनडे हमले, गोलियों से बचाव कर सकते है इन वाहनों को कश्मीर घाटी में आतंकवाद विरोधी अभियान और नक्सल प्रभावित राज्यों में जवानों को उपलब्ध कराया जाएगा। वहीं बल के आधुनिकीकरण के अभियान के तहत सरकार ने सबसे बड़े अर्धसैनिक बल को 42 हजार हल्के बुलेटप्रूफ जैकेट भी उपलब्ध कराए है। ये जैकेट पूर्व में इस्तेमाल किये जाने वाले बुलेटप्रूफ जैकेट के मुकाबले 40 प्रतिशत हल्के है। पुराने बुलेटप्रूफ जैकेट का वजह करीब 7 से 8 किलोग्राम होता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *