आतंकियों के निशाने पर भारतीय उच्चायोग

नई दिल्ली. श्रीलंका में 28 अप्रैल को हुए सिलसिलेवार धमाकों के दौरान भारतीय उच्चायोग भी आतंकियों के निशाने पर था। कोयम्बटूर में आईएस मॉड्यूल की जांच के दौरान राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईएको श्रीलंका के चरमपंथी जाहरान हाशिम का वीडियो में भारतीय उच्चायों को निशाना बनाए जाने के संकेत थे इसी आधार पर भारतीय अधिकारियों ने श्रीनंका की खुफिया एजेंसियों को आतंकी हमले के संबंध में अलर्ट भेजा था।
हाशिम ने सभी वीडियो भारत से अपलोड कि
जाहरान हाशिम के संबंध में मुस्लिम समुदाय लगातार श्रीलंका के अधिकारियों के सामने चिंता जाहिर कर रहा था। यह नेशनल तौहीद जमात एनटीजे का सरगना भी है जिस पर श्रीलंका सरकार को धमाकों में शामिल होने का शक है। श्रीलंका की मुस्लिम काउंसिल के उपाध्यक्ष हिल्मी अहमद ने बताया कि हाशिम के सोशल मीडिया अकाउंट पर सभी वीडियो भारत से अपलोड किए गए है वह यहां आता जाता भी था।
हाशिम ने एनटीजे की स्थापना 2014 में की
हमलों की जिम्मेदारी लेने वाली इस्लामिक स्टेट द्वारा जारी वीडियो में हाशिम 7 नकाबपोश आतंकियों के साथ नजर आया। आईएस ने दावा किया था कि इन्हीं आतंकियों ने श्रीलंका में धमाकों को अंजाम दिया था। बाट्टीकालोआ के रहने वाले हाशिम ने एनटीजे की स्थापना 2014 में की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online