सेना ने की तीसरी सर्जिकल स्ट्राइक, म्यांमार सीमा में आतंकियों के कई ठिकाने किये तबाह

नई दिल्ली. आतंकवाद के खिलाफ भारत का सख्त रूख कायम है पीओके में भारतीय वायुसेना की ओर से जैश ए मोहम्मद के ठिकानो पर की गई हवाई कार्यवाही के कुछ दिन बाद ही भारतीय सेना ने अब म्यांमार सीमा पर मौजूद आतंकियों के कई ठिकानों को नेस्तोनाबूद कर दिया। भारतीय सेना ने म्यांमार सेना के साथ मिलकर इस ऑपरेशन को अंजाम दिया।
म्यांमार सेना के साथ मिलकर ऑपरेशन को अंजाम दिया
जानकारी के अनुसार उत्तर पूर्व के लिए बड़े और अहम इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट, जो म्यांमार में सितवे बंदरगाह के जरिये कोलकाता से मिजोरम से जोड़ते हैं इन आतंकी संगठनों के निशोने पर थे। म्यांमार का विद्रोही समूह अराकान आर्मी ने मिजोरम सीमा पर नए ठिकाने बनाए थे जो कलादान प्रोजेक्ट को निशाना बना रहे थे। अराकान आर्मी को काचिन इंडिपेंडेंस आर्मी द्वारा नॉर्थ बॉर्डर चीन तक ट्रेनिंग दी गई।
2 सप्ताह लंबा संयुक्त भारत-म्यांमार ऑपरेशन चला
पहले चरण में मिजोरम की सीमा पर नवनिर्मित शिविरों को ध्वस्त करने के लिए बड़े पैमाने पर संयुक्त अभियान शुरू किया गया था जबकि ऑपरेशन के दूसरे भाग में ने टागा में एनएससीएन(के) के मुख्यालय को निशाना बनाया गया और कई शिविरों को नष्ट कर दिया गया। रोहिंग्या आतंकी समूह अराकान आर्मी और नागा आतंकी समूह एनएससीएन(के) के खिलाफ 2 सप्ताह लंबा संयुक्त भारत-म्यांमार ऑपरेशन चला। आतंकी समूहों ने कलादान मल्टी मोडल प्रोजेक्ट की तरह भारत की कनेक्टिविटी परियोजनाओं के खिलाफ हमले की योजना बनाई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online