राफेल डील में मोदी सरकार ने सरकारी खजाने को लगाई चपत-प्रमोद तिवारी

ग्वालियर. कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं पूर्व राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी ने राफेल खरीद के मुद्दे पर केन्द्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि केन्द्र सरकार ने न केवल देश हित को दंाव पर लगा दिया बल्कि राफेल डील करके सरकारी खजाने को नुकसान पहुंचाया है और अपने पूंजीपति मित्रों को लाभ पहुंचाया है।
श्री तिवारी आज दोपहर कांग्रेस कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। कांग्रेस राफेल मुद्दे पर केन्द्र की मोदी सरकार को घेरने के लिए देशभर में प्रेसवार्ताएं आयोजित कर अपनी बात रख रही है। इसी क्रम में श्री तिवारी ने आरोप लगाया कि इस पूरे मामले में मोदी सरकार ने भारत सरकार की कम्पनी हिन्दुस्तान एयरोनोटिक्स लिमिटेड को दरकिनार किया।

उन्होंने कहा कि सरकार ने 526 करोड़ के लड़ाकू जहाज राफेल को 1670 करोड़ रुपए में खरीदकर सरकारी खजाने को 41,205 करोड़ की चपत लगाई है। स्वतंत्र भारत के सबसे बड़े रक्षा सौधे में देश के साथ विश्वासघात करने की कला मोदी सरकार का मंत्र बन गई है। अब पूरी मोदी सरकार इस मामले पर पर्दा डालने में लगी हुई है। श्री तिवारी का ध्यान जब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के उस बयान की ओर आकर्षित किया गया जिसमें उन्होंने दिल्ली में कहा था कि कांग्रेस इस मुद्दे पर झूठ बोल रही है तो जवाब में श्री तिवारी ने कहा कि कांग्रेस ने देश को आजादी दिलाई है। कम से कम ऐसे नेताओं को कांग्रेस के बारे में कुछ भी कहने का हक नहीं है जो स्वयं तड़ीपार रहे हों।

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा को भ्रष्टाचारी झूठी पार्टी कहना उचित होगा क्योंकि राफेल मुद्दे पर भाजपा के नेता खुद झूठ बोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि राफेल मुद्दे पर खरीद मूल्य बताने की बात को बार बार यह कहकर छुपाया जा रहा है कि ये गोपनीय मामला है। जबकि ऐसी कोई भी शर्त इस सौदे में नहीं है। इससे पूर्व तिवारी के ग्वालियर आगमन पर कांग्रेस के नेताओं ने स्टेशन पर उनका स्वागत व अगवानी की। इस अवसर पर कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी, स्वदेश शर्मा, कांग्रेस के जिलाध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा, वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा, अशोक शर्मा, जिला प्रवक्ता ं धर्मेन्द्र शर्मा सहित कई कांग्रेस नेता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online