लालू यादव का कोर्ट में समर्पण, पहले जेल जाना होगा, डॉक्टर तय करेंगे कि इलाज जेल में होगा या रिम्स में

रांची. चारा घोटाला में सजायाफ्ता बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालूप्रसाद यादव ने गुरूवार को सीबीआई की कोर्ट में समर्पण कर दिया। उन्हें अभी बिरसा मुंडा जेल भेजा जाएगा इसके बाद जेल के डॉक्टर तय करेंगे कि लालू का इलाज जेल के अस्पताल में होगा या उन्हें रिम्स में भर्ती कराने की जरूरत है। लालू यादव के वकील प्रभात कुमार ने बताया कि मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टिट्यूट के डॉक्टर लालू का चेकअप करेंगे, उसके बाद कोर्ट को उनके स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में बताएंगे।

झारखंड हाईकोर्ट ने पैराल अवधि 3 महीने बढ़ाने की लालू की अपील को 25 अगस्त को खारिज कर दिया था उन्हें 30 अगस्त तक सरेंडर करने का आदेश दिया गया था। लालू बुधवार की शाम पटना से रांची पहुंचे। जेल में लालू के लिए उच्च श्रेणी के कमरे की व्यवस्था की गई है। जेल अस्पताल में भी एक बेड तैयार किया गया है। खाना बनाने और कपड़े धोने के लिए जेल में लालू को एक एक कारिंदे मिलेंगे। यह कारिंदे कैदी ही होंगे।
26 अगस्त को मुंबई से पहुंचे थे पटना
इससे पहले 26 अगस्त को लालू प्रसाद को मुंबई एशिसन हार्ट इंस्टीट्यूट से डिस्चार्ज कर दिया गया था। वह पटना लौट गए थे। लालू के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने झारखंड हाईकोर्ट को बताया था कि पिछले महीने मुंबई में लालू का फिस्टुला का ऑपरेशन हुआ है अभी भी घाव है उन्हें बीपी, शुगर, किडनी की भी समस्या है। इस पर जस्टिस अपरेश कुमार सिंह ने कहा था कि वे रिम्स आएं और यहीं इलाज कराएं। लालू को इलाज के लिए कोर्ट ने 11 मई को छह हफ्ते की जमानत मंजूर की थी इसे बाद में 14 अगस्त और फिर 27 अगस्त तक बढ़ा दिया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online