पेट्रोल 5 रूपये सस्ता, व्यापमं समेत विवादित परीक्षाओं की 10 वर्ष की फीस वापिस करेंगे-कमलनाथ

भोपाल. मप्र कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ ने मंगलवार को यहां दावा किया कि अगर कांग्रेस सत्ता में आई तो वह 2008 से 2018 तक हुई व्यापमं, पीईटी और डीमेट समेत विवादों में रही अन्य परीक्षाओं की फीस छात्रों को लौटाई जायेगी। ऐसे लगभग 15 लाख छात्र है। कांग्रेस पाटी यह वचन देती है।
इसी के साथ तत्काल पेट्रोल-डीजल पर लगने वाला वैट भी कम किया जायेगा और इस पर 5 और 3 रूपये कम किये जायेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी सरकार को तो अब तक दाम कम कर देने चाहिये थे। हमारी मांग है कि सरकार पेट्रोल-डीजल के दाम कम करें और वैट घटाये। उन्होंने कहा कि मप्र में नवम्बर अंतक तक विधानसभा चुनाव संभावित है। कांग्रेस का मुकाबला बीजेपी के धन बल से हैं। मुख्यमंत्री जनआर्शीवाद यात्रा निकाल रहे है। 15 वर्ष निकल जाने के बाद भाजपा को बहुत सी बातें याद आ रही है। पहले बिजली का बिल अधिक वसूला गया बाद में माफ किया गया, मन साफ होता तो ऐसा होता ही नही। आर्शीवाद मांगने की जरूरत ही नहीं पड़ती जनता स्वयं आर्शीवाद दे देती है। उन्होंने बीजेपी पर सरकारी मशीनरी के दुरूप्योग करने का भी आरोप लगाते हुए कहा कि जनता के पैसों का राजनीतिक इस्तेमाल किया जा रहा है अधिकारियों को जन आर्शीवाद यात्रा में भीड़ लाने के लिये निर्देश दिये जा रहे हैं। सरकार बिनावजट के प्रावधान के काम कर रही हैं।
मप्र में भाजपा ने अपराधियों का शतक बनाया
उन्होंने कहा कि भाजपा राज में मप्र अपराधियों की सेंचुरी बन गया है। अपराध बढ़ रहे हैं। महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। मप्र की अर्थव्यवस्था चौपट हो गई है। समाज का हर वर्ग इस सरकार से परेशान है। नोट बंदी से क्रय शक्ति कम हुई। आर्थिक गतिविधि घटी है।
घोषणा नहीं केवल वचन पत्र होगा
प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ ने कहा है कि कांग्रेस घोषणा पत्र नहीं, वचन पत्र जारी करेगी। इसमें जो लिखा होगा, उसे पूरा किया जायेगा। इसे किसान, मजदूर, युवा, महिला, समाज और व्यापारी समेत सभी वर्गो की समस्याओं को ध्यान में रखकर तैयार किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online