20 भाजपा सांसदों से नाराज हैं जनता, इन्हें टिकट न दें संघ ने दी सलाह

भोपाल. राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) ने 20 सांसदों को दोबारा टिकट नहीं देने को कहा और साथ ही यह भी कहा यदि इन सीटों पर चेहरे नहीं बदले तो हाल विधानसभा चुनाव जैसे हो सकते हैं। विधानसभा चुनाव से पहले राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ ने लगभग 60 विधायकों को दोबारा टिकट नहीं देने और 13 मंत्रियों की जगह नए चेहरों को मौका देने कहा था ऐसा नहीं हुआ और भाजपा को हार का मुंह देखना पड़ा।
कई जगह सांसदों के प्रति गुस्सा नजर आ रहा
2 माह बाद होने जा रहे लोकसभा चुनाव से पहले राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने भी अंदर ही अंदर तैयारी शुरू कर दी है। संघ ने 26 सीटों का विश्लेषण कर इनमें से 20 सीटों को बदलने की सिफारिश भाजपा संगठन से की है और कहा है कि इन 20 सांसदों से जनता खफा है। इन संसदीय सीटों पर कई जगह सांसदों के प्रति गुस्सा नजर आ रहा है।
लापता होने के पोस्टर जगह जगह लगा दिए
कई सांसद अपने क्षेत्रों में सक्रिय नहीं है इससे खफा स्थानीय लोगों ने इनके खिलाफ पोस्टर वार छेड़ दिया था। उनके लापता होने के पोस्टर जगह जगह लगा दिए थे इनमें से विदिशा सांसद सुषमा स्वराज, खजुराहो सांसद नागेंद्र सिंह, खरगौन सांसद सुभाष पटेल, मुरैना सांसद अनूप मिश्रा सहित कई सांसद भी शामिल हैं। अब इनके लोकसभा का चुनाव लड़ने की उम्मीदें खत्म हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online