भाजपा नेता नरेन्द्र सिंह रावत के भाई की हत्या का पर्दाफाश, पैसों को लेकर साढू ने की छत्रपाल की हत्या

ग्वालियर. भितरवार में पुल के नीचे मिली भाजपा नेता और पूर्व सरपंच के भाई की हत्या का पर्दाफाश कर के पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया है। हत्या का आरोपी मृतक का रिश्ते में साढू भाई लगता है दोनो के बीच पैसे के लेन देन को लेकर विवाद चल रहा था।
पुलिस कप्तान ने फोरेंसिक टीम के साथ जाकर मौके का मुआयना किया
काल सोमवार को भितरवार में पुल कि नीचे पूर्व सरपंच और भाजपा नेता नरेन्द्र सिंह रावत के भाई छत्रपाल सिंह की लाश मिली थी। लाश पर चोट के निशान थे ऐसे में आशंका थी कि उसकी हत्या की गई है पुलिस कप्तान ने फोरेंसिक टीम के साथ जाकर घटनास्थल का मुआयना किया था इसके बाद भितरवार थाना पुलिस को मामले का खुलासा करने का अल्टीमेटम दिया था।
छत्रपाल आर्थिक स्थिति ठीक ना होने के बाद भी कर्जा ले लेता था
इस वारदात में पुलिस को सुराग लगा कि मृतक शराब पीने का आदी था और जुआ भी खेलता था उसकी आर्थिक स्थिति ठीक न होने के बावजूद व अपने शौक पूरे करने के लिए कर्जा ले लेता था। पुलिस ने उसके बारे में जानकारी ली तो मालूम हुआ कि उसके घर के पास रहने वाला उदयभान रावत घर से लापता है। वह छत्रपाल सिंह के रिश्ते में साढू भाई लगता है उससे भी 70 से 80 हजार रुपए का लेनदेन था। पुलिस ने उदयभान को देर रात पकड़ लिया।
उदयभान ने बाइक पर बैठाकर अपने साथ पार्वती नदी के नीचे ले जाकर हत्या की
उदयभान ने बताया कि छत्रपाल सिंह ने उससे पैसे उधार लिए थे उसकी कपड़े की दुकान है इसके लिए उसे जरूरत थी जबकि छत्रपाल सिंह उसे रकम लौटाने राजी नही था उसे में उसने उसे बाइक पर बैठाया और अपने साथ पार्वती नदी के नीचे ले गया जहां उसे मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने आरोपी से हत्या में इस्तेमाल बाइक बरामद कर ली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online