एक फर्म का उर्वरक विक्रय प्राधिकार पत्र निरस्त और दो फर्मों को नोटिस

ग्वालियर मैसर्स शीतला सीमेंट एवं खाद भण्डार चीनौर का उर्वरक विक्रय प्राधिकार पत्र निरस्त कर दिया गया है। साथ ही मैसर्स माँ बसैया खाद भण्डार चीनौर और मैसर्स राकेश कुमार मुकेश कुमार भितरवार के उर्वरक विक्रय अधिकार पत्र निलंबितध्निरस्त करने के लिये पृथक.पृथक कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं। कलेक्टर भरत यादव के निर्देश पर अनुज्ञापन अधिकारी (उर्वरक) तथा उपसंचालक किसान कल्याण व कृषि विकास द्वारा इन फर्मों का औचक निरीक्षण किया गया था। विभिन्न प्रकार की अनियमिततायें और यूरिया वितरण के संबंध में शासन के निर्देशों का उल्लंघन पाए जाने पर यह कार्रवाई की गई है।
उपसंचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास आनंद बड़ोनिया से प्राप्त जानकारी के मुताबिक मेन बाजार चीनौर स्थित मैसर्स शीतला सीमेंट एवं खाद भण्डार के निरीक्षण में पाया गया कि इस फर्म द्वारा कृषकों को यूरिया की निर्धारित नियंत्रित दर 266 रूपए प्रति बैग की बजाय 420 रूपए प्रति बैग की दर से यूरिया बेचा जा रहा था। साथ ही स्टॉक पोजीशन तथा विक्रय सूची इस प्रतिष्ठान पर प्रदर्शित नहीं थी।
इसी प्रकार मैसर्स जय माँ बसैया खाद भण्डार चीनौर फर्म के निरीक्षण में पाया गया कि वहाँ पर भाव सूची प्रदर्शित नहीं, उपसंचालक कृषि द्वारा भितरवार स्थित मैसर्स राकेश कुमार मुकेश कुमार की फर्म का भी औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण में पाया गया कि स्टॉक पंजी में यूरिया उर्वरक निरंक दर्ज है। इन दोनों फर्मों को जारी किए गए कारण बताओ नोटिस व स्पष्टीकरण का जवाब समाधानकारक न होने पर उर्वरक विक्रय अधिकार पत्र निलंबित/निरस्त करने की कार्रवाई की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online