भारत अनेकता में एकता का प्रतीक है .श्रीमती माया सिंह

ग्वालियर भारत विविधताओं से भरा देश है। यहाँ भाषा, धर्म, जाति, क्षेत्र, संप्रदाय, खान.पान, रहन.सहन, बोल.चाल की विविधता है। ये विभिन्नताएं एक छोर से दूसरे छोर तक फैली हुई हैं। परंतु भारतीय संस्कृति विश्व में सबसे अधिक समृद्धशाली संस्कृति है। यहाँ अनेकता में एकता विद्यमान है। यह बात प्रदेश की नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने सतसंग हॉल के भूमिपूजन कार्यक्रम के अवसर पर कही।
जियाजी सदावर्त समिति के सतसंग हॉल के भूमिपूजन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि समिति द्वारा धार्मिक कार्य के लिए आगे आना एक महत्वपूर्ण कदम है। समाज के हित के लिये कार्य करना हमारे उद्देश्यों में शामिल होना चाहिए। उन्होंने कहा इस कार्य के लिए कई लोगों ने मिलकर प्रयास किया है। समिति द्वारा समय.समय पर धार्मिक आयोजन किए जाते हैं। अब इसके लिए हॉल का निर्माण किया जायेगा।

श्रीमती माया सिंह ने प्रदेश सरकार द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा जिले में 63 कॉलोनियां वैध की गई हैं, ताकि यहां विकास कार्यों को गति मिले। लोगों का जीवन सुगमतापूर्ण हो। सभी को आवश्यक सुविधाएं देने के उद्देश्य से यह कदम उठाया गया है। इसके साथ ही अमृत योजना के तहत सीवेज सिस्टम में सुधार के लिये काम चल रहा है। इससे कॉलोनियों के घरों में गंदा पानी भरने की समस्या का निदान होगा। उन्होंने कहा इसके तहत 4 सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट भी लगाए जा रहे हैं, ताकि सीवेज के गंदे पानी को स्वच्छ बनाकर अन्य कार्यों के लिये भी उपयोग किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online