हमारा फैसला कांग्रेस सरकार के लिये खतरा हो सकता है-60 अधिक से विधायक बोले

नई दिल्ली. कांग्रेस के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के दिल्ली स्थित निवास बंगले के बाहर मप्र विधानसभा चुनाव 2018 में नव निर्वाचित 60 से अधिक विधायक धरना दे रहे हैं। सभी विधायकों ने राहुल गांधी से ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आपकी बात मानकर प्रदेश अध्यक्ष और डिप्टी सीएम नहीं लेकिन सभी विधायक एक स्वर में बोले कि हम सभी स्वतंत्र हैं जो हमें सही लगेगा वहीं करेंगे। उन्होने बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि हम कोई भी फैसला ले सकते हैं जो कि मप्र में बनी सरकार के लिये खतरा साबित हो सकता हैं।

ज्योतिरादित्य सिंधिया के आश्वासन के बाद धरना समाप्त 

सभी विधायकों की मांग थी ज्योतिरादित्य सिंधिया को मध्य प्रदेश कांग्रेस का प्रदेशाध्यक्ष बनाया जाये, लगभग दो घंटे चले धरना के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया सभी विधायकों के बीच आकर कहा कि मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से बात करूंगा इस आश्वासन के बाद सभी विधायकों ने धरना समाप्त कर दिया।
सिंधिया निवास पर धरना में मुख्य रूप से नवनिर्वाचित विधायक प्रधुम्नसिंह तोमर, मुन्नालाल गोयल, इमरती देवी, रंजीत जाटव, बनवारी लाल शर्मा, रघुराज कंसाना गिर्राज दण्डोतिया और कमलेश जाटव धरना में शामिल थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online