पॉलीथिन का बहिष्कार निगम कर्मचारी

ग्वालियर नगर निगम कर्मचारी होने के साथ साथ हम सभी ग्वालियर शहर के नागरिक भी हैं, इसलिए अपने शहर को स्वच्छता में नम्बर वन बनाने के लिए हम सभी का भी उतना ही दायित्व है जितना हर आम नागरिक का, इसलिए दूसरे लोगों को समझाने से पहले हमें यह जानकारी होनी चाहिए कि कचरा कितने प्रकार का होता है तथा इन सभी कचरे को पृथक-पृथक एकत्रित कर डिस्पोजल भी अलग-अलग प्रकार से करना है। इसके लिए पहले हम सभी अपने अपने घरों में दो-दो डस्टबीन रखें, तब दूसरों को प्रेरित करें, और यह भी संकल्प लें कि हम पॉलीथिन का उपयोग नहीं करेगें। यह विचार नगर निगम आयुक्त विनोद शर्मा ने नगर निगम में कार्यरत सभी अधिकारियों, कर्मचारियों के लिए आयोजित स्वच्छता परिचर्चा में व्यक्त किए। परिचर्चा में निगम के सभी कर्मचारियों ने एक स्वर में कहा कि हम सभी पॉलीथिन का बहिस्कार करेगें।
इसी के तहत बुधवार को निगम निगम के स्वच्छता सेल द्वारा बालभवन स्थित ऑडोटोरियम में नगर निगम के कर्मचारियों के लिए स्वच्छता जागरुकता प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। जिसके तहत विधानसभावार महिला सफाई कर्मचारियों की प्रक्षिक्षण कार्यशाला और निगम कार्यालय में कार्यरत सभी अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ स्वच्छता जागरुकता परिचर्चा का आयोजन किया गया।
निगमायुक्त ने बताया कि महिलाओं को जागरुक करनें के लिए हम विभिन्न सार्वजनिक स्थानों, गर्ल्स कॉलेज, स्कूल एवं हॉस्टलों में सेनेटरी नैपकिन की मशीनें लगाई जा रहीं है जिससे वह इसके प्रति जागरुक हो सकें तथा इससे उन्हें सुविधा भी मिलेगी। निगमायुक्त श्री शर्मा ने सभी अधिकारियों व कर्मचारियों से भी आग्रह कि उनके घरों में अनुपयोगी सामान जिन पर धूल जमती है उन्हें किसी ऐसे को दे दें जिसे इसकी आवश्यकता है।
नगर निगम ग्वालियर द्वारा कचरा संग्रहण हेतु डोर टू डोर जाने वाले वाहनों में इन सभी के लिए अलग अलग व्यवस्था की गई है तो सभी को अलग अलग कचरा ही डालना चाहिए एवं भवन निर्माण वाले कचरे से केवल भराव किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि पॉलीथिन पर्यावरण एवं हम सभी के लिए बहुत हानिकारक है इसलिए इसको हर हाल में बहिस्कृत करें जिससे आपको देखकर अन्य नागरिक भी इससे प्रेरित हो सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online