स्ट्रॉग रूम के बाहर लगेंगी अब बड़ी एलईडी

ग्वालियर. 28 नवंबर को जिले की 6 विधानसभा के मतदान के बाद ईवीएम में प्रत्याशियों का भाग्य बंद हो गया है। जिले के 1726 मतदान केंद्रों पर हुए मतदान के बाद एमएलबी कॉलेज में बनाए गए जिले के स्ट्रॉग रूम में सभी ईवीएम और बैलेट यूनिट को बंद रखा गया है। सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से स्ट्रॉग रूम पर 24 घंटे नजर रखी जा रही है। उम्मीदवार और उनके प्रतिनिधि भी आयोग से अनुमति मिलने के बाद स्ट्रॉग रूम के 200 मीटर के दायरे से बाहर सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से अपनी नजर रख रहे हैं लेकिन इसके लिए जो स्क्रीन लगाई गई है वह बहुत छोटी है ऐसे में 6 विधानसभा क्षेत्रों की निगरानी रख पाना मुश्किल हो रहा है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अशोककुमार वर्मा को उम्मीदवारों ने अपनी इस परेशानी से अवगत कराया। उम्मीदवारों के निवेदन के बाद कलेक्टर ने छोटी स्क्रीन को बदलकर बड़ी स्क्रीन लगाए जाने के लिए संबाधित ठेकेदार को आदेश दिए है। लिहाजा अब स्ट्रॉग रूम के बाहर बड़ी स्क्रीन लगाई जाएगी।
सुरक्षा ऐसी कि परिंदा भी पर नहीं मार सकता
स्ट्रॉग रूम की सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतजाम किए गए है। स्ट्रॉग रूम में लगे ताले की एक चाबी कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अशोक कुमार वर्मा के पास है जबकि दूसरी चाबी संबधित विधानसभा के निर्वाचन आधिकारी के पास है। स्ट्रॉग रूम की सुरक्षा के इंतजाम ऐसे किए गए है कि कोई परिंदा भी पर न मार पाए इसके लिए स्ट्रॉग रूम में थ्री लेयर में सशस्त्र जवानों का पहरा लगा हुआ है। 11 दिसंबर को मतगणना के दिन सील्ड की गई ईवीएम मशीनों को प्रत्याशियों व उनके एजेंट के सामने खोला जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online