जेल में ही बकरीद मनाएंगे नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम शरीफ

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, उनके बेटी और दामाद उच्च सुरक्षा वाली अडियाला जेल में ही बकरीद मनाएंगे। न्यूज एजेंसी भाषा के मुताबिक उच्च न्यायालय ने उनकी रिहाई की याचिका पर फैसला टाल दिया। उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद पिछले साल 68 वर्षीय शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ भ्रष्टाचार के तीन मामले दर्ज किए गए थे।

शरीफ भ्रष्टाचार के बाकी मामलों अल अजीजियां स्टील मिल्स और हिल मेटल इस्टैबलिशमेंट मामलों में सुनवाई के लिए सोमवार को इस्लामाबाद आधारित उच्च न्यायालय में पेश हुए थे। नवाज, उनकी 44 वर्षीया बेटी मरियम और 54 वर्षीय दामाद कैप्टन (रिटायर्ड) मोहम्मद सफदर पहले से ही अडियाला जेल में क्रमश: 10 साल, 7 साल और 1 साल की कैद की सजा काट रहे हैं। उन्हें लंदन में अवैध तरीके से चार लग्जरी फ्लैट खरीदने के मामले में जवाबदेही अदालत ने दोषी ठहराया था।

यह दूसरा मौका जब शरीफ जेल में बकरीद मनाएंगे
यह दूसरा मौका होगा, जब शरीफ जेल में बकरीद मना रहे हैं। इससे पहले 1999 के सैन्य तख्तापलट के बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने तब ईद-उल-फितर और ईद-उल-अजहा (बकरीद) जेल में मनाई थी। जुल्फिकार अली भुट्टो जेल में ईद मनाने वाले पाकिस्तान के पहले प्रधानमंत्री थे। उन्हें जुलाई 1977 के सैन्य तख्तापलट के बाद गिरफ्तार किया गया था और 1979 में फांसी दे दी गई थी।

नवाज शरीफ और मरियम के पाकिस्तान से बाहर जाने पर रोक
पाकिस्तान के नवगठित मंत्रिमंडल ने नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज पर शिकंजा कसते हुए उनके देश से बाहर जाने पर रोक लगा दी है। नए मंत्रिमंडल की सोमवार को हुई पहली बैठक के बाद सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने मीडिया को बताया कि नवाज और मरियम के नाम निकास नियंत्रण सूची (ईसीएल) में रखने का फैसला किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online