मप्र के भाजपा उम्मीदवारों चयन के लिये केन्द्रीय चुनाव समिति की बैठक शुरू, देररात तक आ सकती है पहली सूची

नई दिल्ली. विधानसभा चुनाव के लिये टिकट अंतिम रूप देने के लिये दिल्ली बीजेपी कार्यालय में केन्द्रीय चुनाव समिति की बैठक शुरू हो गयी है। बेठक में पीएम नरेन्द्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, सीएम शिवराजसिंह चौहान, प्रदेशाध्यक्ष राकेशसिंह, नरेन्द्रसिंह तोमर, विनय सहस्त्रबुद्धे, सुहास भगत आदि नेता उपस्थित रहें हैं। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि आज रात बीजेपी लगीाग 100 नामों का ऐलान किया जा सकता हैं टिकट वितरण के बाद किसी भी अप्रिय स्थिति को सरोकने के लिये भोपाल में भाजपा प्रदेश कार्यालय में भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया है।
कांग्रेस में सहमति पर अटकी सूची
वहीं, कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ ने बुधवार को कांग्रेस की पहली लिस्ट जारी होने की बात कही थी, लेकिन कुछ सीटों पर सीनियर नेताओं के बीच सहमति नहीं बनने से मामला अटक सकता है, पार्टी के सूत्रों ने भी इसकी पुष्टि की हैं।
मिलेंगे बी फार्म
भाजपा की पहली सूची जारी होने के तुरंत बाद उम्मीदवारों को पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी होने का बी फार्म जारी कर दिया जाएगा। इसके साथ ही शुक्रवार से नामांकन भरने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। दोनों ही पार्टियां अपने अधिकृत प्रत्याशी के साथ एक.एक डमी उम्मीदवार से भी नामांकन फार्म भरवाएगी।

बड़े शहरों के भाजपा उम्मीदवारों का फैसला नहीं
स्क्रीनिंग कमेटी अभी ग्वालियर, भोपाल, इन्दौर, उज्जैन, जबलपुर की अधिकतर सीटों पर उम्मीदवारों के चयन पर फैसला नहीं ले पायी हैं। इसके अलावा सागर जिले में बीना सीट पर 3 प्रत्याशी हैं। इसी तरह विदिशा जिले की सिरोंज सीट पर भी फैसला नहीं हुआ है। यहां से वर्तमान विधायक स्वास्थ्य कारणों से चुनाव लड़ने से मना कर चुके हैं।
मप्र विधानसभा उम्मीदवारों को टिकट अमित शाह तय करेंगे
प्रदेश भाजपा ने अपने स्तर पर 3 सर्वे कराये थे, उम्मीदवारों के चयन को लेकर एक सर्वे अमित शाह और राममाधव ने भी कराया था ऐसा बताया जा रहा है कि जो नाम अमितशाह की सर्वे रिपोर्ट से मेल खायेंगे उन्हें पहली लिस्ट में घोषित कर दिये जायेंगे। जो नाम अमित शाह की लिस्ट से मेल नहीं खायेंगे, उन पर विचार किया जायेगा। मप्र भाजपा ने लगभग 100 सीटों पर सिंगल नाम भेजे हैं। लेकिन केन्द्र अपनी सर्वे रिपोर्ट के आधार पर बदल सकता हैं, इसका ताजा उदाहरण छत्तीसगढ़ भाजपा की सूची हैं। छत्तीसगढ़ भाजपा ने 78 नाम सिंगल भेजे थे। इनमें से 17 नामों को भाजपा संसदीय बोर्ड ने बदल दिया है।
भाजपा के प्रदेश कार्यालय पर तैनात हैं पुलिस
दिल्ली में बीजेपी की केन्द्रीय चुनाव समिति की बैठक केस बाद उम्मीदवारों के नाम का ऐलान के बाद किसी भी तरह की अप्रिय स्थिति से निपटने के लिये भाजपा प्रदेश कार्यालय के सामने भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया है। बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर रोक लगा दी गयी है। कांग्रेस के शिवाजीनगर स्थित प्रदेश कार्यालय में भी पुलिस बल तैनात किया गया हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online