मप्र की भ्रष्ट शिवराज सरकार को उखाड़ फेकेंगे, संतों ने ली शपथ

ग्वालियर. शिवराज सरकार धर्म विरोधी है, संतों ने ही शिवराज सरकार बनाई है और कम्प्यूटर बाबा संतों के साथ हैं आने वाली सरकार भी अगर ऐसी ही निकली तो हम उसे भी उखाड़ फेकेंगे। नर्मदा की छाती को मशीनों से छलनी कर रहे हैं और मैं बता दूं कि शिवराज के लोग ही नर्मदा मैया में उत्खनन कर रहे हैं और गौ माता बिलख रही हैं शिवराज झूठा, मक्कार और भ्रष्ट हैं ऐसे भ्रष्ट शिवराज सरकार उखाड़ कर फेंक दों यह उद्गार ग्वालियर के कोटेश्वर मंदिर के नजदीक रामरती वाटिका में संत समागम के आयोजक कम्प्यूटर बाबा ने कहीं।
संत समागम में कम्प्यूटर बाबा सहित अन्य संतों ने शिवराज सरकार को उखाड़ फेंकने की शपथ ली। प्रधानमंत्री मोदी के मन की बात कार्यक्रम को तर्ज पर ही आंदोलन का नाम भी संतों के मन की बात देते हुए संतों से संवाद भी किया। कार्यक्रम में कांग्रेसियों की मौजूदगी भी देखी गई।
नर्मदा में शिव के शिवाओं का घोटाला
संतों को संबोधित करते हुए कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि शिवराज सरकार ने संतों का अपमान किया, मठ मंदिर उजाड़े, साधुओं को बेदखल किया। मंत्री बनाए जाने पर उन्होंने मुख्यमंत्री के समक्ष मां नर्मदा के घोटाले की बात कहीं, संतों की पंचायत की बात कही लेकिन उन्होंने मना कर दिया। इसलिए मां नर्मदा के सम्मान के लिए तत्काल इस्तीफा दे दिया। हम शपथ लेते है कि प्रदेश में इस सरकार को नहीं रहने देंगे। निरंजनी अखाड़े के महामंडलेश्वर वैराम्यानंद ने शिवराज सरकार पर तो निशाना साधा ही , केन्द्र सरकार कड़े प्रहार करते हुए प्रधामंत्री मोदी के भाषणों की हुबहू नकल करते हुए कार्यक्रम में आए साधुओं से सवाल भी किए। संबोधन की शुरूआत रोकडि़यां सरकार महराज ने की। मन की बात को पंडित रवीश त्यागी, स्वामी मनमोहनदास खडेश्वर ने संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online