महाकाल की पूजा अर्चना कर मालवा जीतने निकले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी

उज्जैन. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज सोमवार से फिर 2 दिवसीय दौरे पर मध्यप्रदेश में हैं। उन्होंने अपने दौरे की शुरूआत धार्मिक नगरी उज्जैन से की। उन्होंने ने महाकाल के दरबार में पूजा अर्चना करने के लिए पहुंचे। वहां पूजा अर्चना की साथ ही माथा टेका और फिर मन में मालवा फतह की कामना के साथ चुनाव प्रचार अभियान पर निकल पड़े इसके बाद राहुल गांधी ने उज्जैन का दशहरा मैदान पर एक जनसभा को संबोधित किया।
क्षिप्रा शुद्धिकरण में हुए भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मप्र सरकार ने महाकुंभ का खर्चा 10 गुना बढ़ाया और उस पैसे का बेजा उपयोग हुआ। वहीं उन्होंने व्यापमं के मुद्दे पर भी मध्यप्रदेश सरकार को जमकर कोसा। इतना ही नहीं राहुल गांधी ने क्षिप्रा शुद्धिकरण को लेकर हुए भ्रष्टाचार का भी मुद्दे पर भी मध्यप्रदेश सरकार को जमकर कोसा। राहुल गांधी ने क्षिप्रा शुद्धिकरण को लेकर हुए भ्रष्टाचार का भी मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि क्षिप्रा नदी को साफ करने के लिए 400 करोड़ खर्च हुए लेकिन इतने पैसे खर्च करने के बाद भी क्षिप्रा साफ नहीं हुई है। यह बताने के लिए उन्होंने मंच पर ही क्षिप्रा नदी का गंदा पानी मंगा लिया।
10 दिन के भीतर किसानों का कर्जा माफ
वहीं राहुल गांधी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैं कोरे वादे नहीं करता हूं। मध्यप्रदेश में हमारी सरकार बनने के 10 दिन के अन्दर कांग्रेस किसानों का कर्जा माफ कर देगी और अगर मुख्यमंत्री इसमें कोई बहाने बनाते हैं तो दूसरा सीएम किसानों का कर्जा माफ करेगा।
अरूण जेटली को जमकर कोसा
उज्जैन में संकल्प यात्रा सभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि विजय माल्या 9 हजार 500 करोड़ रुपए ले जाने से पहले वित्तमंत्री अरूण जेटली से मिलता है और कहता है की मैं लंदन जा रहा हूं। तब जेटली ने पुलिस और सीबीआई को क्यों नहीं बताया। मेहुल चोकसी, नीरव मोदी 35 हजार करोड़ रुपए लेकर भाग गए। मेहुल चोकिसी के अरूण जेटली के परिवार से क्या सम्बन्ध हैं। उज्जैन के महाकुम्भ मेले को भी नहीं छोड़ा यहां भी भ्रष्टाचार किया। व्यापमं में 50 लोगो की हत्या हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online