तीन डॉक्टरों की टीम परखा स्नेहालय के संचालक का स्वास्थ्य, जेल जायेंगे या रहेंगे अस्पताल

ग्वालियर. 26 वर्षीय मूक बधिर दुष्कर्म पीडि़ता महिला का गर्भपात कराने और साक्ष्य छिपाने के आरोपी स्नेहालय आश्रम के संचालक डॉ. बीके शर्मा स्वयं को बीमार बताकर पिछले 16 दिन से जेएएच के प्राइवेट वार्ड 5 में रह रहे हैं। गिरफ्तारी के बाद डबरा जेल में 2 दिन काटने के बाद ही उन्हें यहां भर्ती करा दिया गया था लेकिन वह कितने बीमार हैं? इसकी जांच पहली बार सोमवार को मेडीकल बोर्ड के 3 सदस्यीय डॉक्टरों के दल ने की।
दल में सर्जन डॉ. एमएम मुदगल, हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. राम रावत और निश्चेतना विशेषज्ञ डॉ. सुमन गुप्ता शामिल थी। इन्होंने डेढ़ घंटे में डॉ. शर्मा का स्वास्थ्य परीक्षण किया। डॉ बीके शर्मा ने पैनल को वबासीर होने और उसके कारण कई अन्य तकलीफें होने की बात कही।
ऐसा बताते है कि डॉक्टरों ने ब्लड प्रेशर जांचने के साथ ईसीजी, यूरीन, ब्लड संबंधी टेस्ट के अलावा अन्य जांचें भी कीं। मेडिकल बोर्ड मंगलवार को अपनी रिपोर्ट जेएएच अधीक्षक को सौंपेगा। इसके आधार पर ही डॉ. शर्मा को वापस जेल भेजने या फिर जेएएच में आगे भर्ती रखने का निर्णय होगा। डॉ. शर्मा के स्वास्थ्य की जांच जेएएच अधीक्षक के आदेश पर की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online