पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों ने सड़क दुर्घटना में सिर कट जाये असंभव

ग्वालियर. कैंसर पहाड़ी पर हुए हादसे के बाद पोस्टमार्टम के लिए छात्र का शव पीएम हाउस पहुंचाया गया। शव का पोस्टमार्टम करने पहुंचे जीआरएमसी के फोरेंसिक विभाग के एचओडी और अन्य डॉक्टर ने छात्र का सिर और धड़ अलग देखकर हत्या समझा। जैसे ही उन्हें बताया गया कि यह सड़क हादसे में हुआ है। एचओडी डॉ. सार्थक जुगरान और डॉ. अजय गुप्ता के मुंह से एक साथ शब्द निकले असंभव।
दुर्घंटना के समय 100 की स्पीड़ से दौड़ रही थी कार
जिस पर टीआई झांसी रोड ने समझाया शनिवार की रात 100 से अधिक की स्पीड में कार बेकाबू होकर कैंसर पहाड़ी के नीचे 5 फीट गहरे गड्ढे में गिरी। घटन के समय छात्र खिड़की से बाहर सिर किए था। कार के जमीन पर गिरते समय झटका इतना तेज था कि कार विंडो के बीच में आकर गर्दन कट गई। धड़ कार में ही मिला और सिर 15 फीट की दूरी पर।
क्या है पूरा मामला
छात्र आशुतोष ने पुलिस को बताया कि कॉलेज से वह शिवपुरी लिंक रोड पर स्थित पंडि़त ढाबे पर पहुंचे। यहां पार्टी की और गौरव को छोड़कर सभी ने शराब पी। 1.30 बजे कार से घर लौट रहे थे। कार गौरव यादव ड्राइव कर रहा था। गौरव के पीछे सीट पर विंडो साइड पर अंशुल व दूसरी तरफ मैं खुद बैठा था और बीच में विकल्प कटारे था जो कि अंशुल की गोदी में सिर रखकर लेटा था। चालक की साथ वाली सीट पर तुषार बैठा था जिसे मैं नहीं जानता हूं। कैंसर पहाड़ी के अंधे मोड़ पर कार बेकाबू होकर लहराई और झाडि़यों में जा गिरी। कार 2 पेड़ से टकराई और उसके बाद झाडि़यों में अटक गई। हादसे की सूचना एम्बुलेंस को दी और हम थाने पहुंचे।
कार मालिक बोला मैं घर पर सो रहा हूं
शनिवार की रात विश्वविद्यालय थाने में पदस्थ एसआई पप्पू यादव घर पर थे। कैंसर पहाडि़या पर हादसे की सूचना मिलते ही वह वहां पहुंचे। कार की पिछली सीट पर धड़ रखा हुआ था। गर्दन नजर नहीं आ रही थी। एक घायल सीट पर पड़ा था। कार एसआई के परिचित की थी उन्हें लगा धड़ उसी का है उन्होंने तत्काल उसके मोबाइल पर कॉल किया। कॉल रिसीव होते ही वो चौंक गए। एसआई ने पूछा तू कहां हैं जवाब मिला मैं घर में सो रहा हूं….. तेरी कार कहां हैं? वहा तो परिचित के छात्र कॉलेज में पार्टी होने के कारण मांगकर ले गए थे। एक्सीडेंट की सूचना मिलते ही कार मालिक भी मौके पर पहुंचे गए। कार गिरवाई निवासी विनोद पुत्र रामचरण पाल के नाम पर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online