सीवर के चेम्बर के भीतर दम घुटने से हुई मजदूर की मौत, दूसरा बचाने गया उसकी भी हुई मौत

मुरैना. शहर के माधौपुरा में गल्ला मंडी के सामने बने नए सीवर चेंबर को साफ करने के लिए उतरेे मजदूर का दम घुट गया उसे बचाने के लिए वहां खड़ा एक युवक भी नीचे उतरा तो वह भी उसमें बेहोश हो गया इसके बाद सीवर खुदाई कर रही पॉकलेन मशीन की मदद से चेंबर के समानांतर गड्ढा खोदकर एक घंटे बाद दोनों युवकों को निकाला गया तब तक उनकी मौत हो चुकी थी।
क्या है पूरा मामला
शहर में हैदराबाद की स्टैंडर्ड इंफ्राटेक प्रा. लिमिटेड कंपनी द्वारा सड़कों की खुदाई कर सीवर लाइन बिछाई जा रही है। माधौपुरा में गल्ला मंडी के पास सीवर लाइन का चेंबर बना हुआ था। शुक्रवार को सुबह 11.30 बजे ठेकेदार की लेबर रूप में काम करने वाले अरूण पुत्र हरिराम वंशकार 22 फीट गहरे सीवर चेंबर को खोलकर उसकी सफाई करने के लिए नीचे उतरा।
चूंकि चेंबर कई दिनों से बंद था इसलिए उसके अंदर ऑक्सीजन कम थी। अंदर उतरते ही अरूण का दम घुट गया और वह ंअंदर ही रह गया। इसके बाद पास में ही खड़े अनिल पुत्र जगदीश राठौर निवासी विजयपुर भी अंदर उतर गया। अंदर जाते ही अनिल भी बेहोश होकर नीचे जा गिरा।
दोनों युवकों के नीचे गिरते ही कॉलोनी में हड़कंप मच गया। नगर निगम जेसीबी की मशीन बुलवाई गई। जेसीबी के जरिए चेंबर से 5 फीट दूर समानांतर गड्ढ़ा खोदकर एक युवक को नीचे उतारा गया। इसके बाद अंदर से दोनों को बाहर निकाला गया। दोनों युवकों को एंबुलेंस के जरिए अस्पताल भेजा गया जहां डॉक्टर्स ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।
घटना के बाद उग्र हुए लोग हंगामा किया
इस हादसे के बाद लोग उग्र हो गए उन्होंने एक घंटे अस्पताल और एक घंटे पीएम हाउस पर हंगामा किया। भीड़ सीवर कंपनी के मालिक, लेबर ठेकेदार व निगमायुक्त के विरूद्ध एफआईआर की मांग की। सीवर कंपनी ने दोनों मृतकों को 4 लाख रुपए व प्रशासन ने असंगठित श्रमिक के रूप में पंजीबद्ध युवक को चार लाख संबल योजना से देने का आश्वासन दिया जब कहीं जाकर भीड़ का गुस्सा शांत हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online