सत्याग्रहियों को मनाने ग्वालियर पहुंचे सीएम शिवराज

ग्वालियर. ग्वालियर व्यापार मेला परिसर में जुटे हजारों भूमिहीनों को मनाने के लिए सीएम शिवराज सिंह चौहान ग्वालियर पहुंचे। मुख्यमंत्री सीधे मेला मैदान पहुंचे और वहां डेरा डाले एकता परिषद के सत्याग्रहियों से मिले परिषद की ओर से राजगोपाल पीवी ने उन्हें पहले ही आमंत्रण भेजा था। मुख्यमंत्री यहां पर प्रतिज्ञा लेते हुए कहा कि प्रत्येक व्यक्ति के पास जमीन का एक टुकड़ा होगा और कोई भी भूमिहीन नहीं होगा।
मुख्यमंत्री ने कहा प्राकृतिक संसाधनों पर सभी का बराबरी का अधिकार होता है। मगर यह स्वीकारने में कोई संकोच नहीं है कि पूरी दुनिया में अमीरों ने इन संसाधनों पर कब्जा जमा रखा हैए जिससे अमीर.गरीब के बीच बड़ी खाई पैदा हो गई है। इस खाई को पाटने के लिये अच्छी नीतियांए कार्यक्रम व कानून बनाना सबसे ठीक रास्ता होता है। मध्यप्रदेश में इसी रास्ते पर चलकर गरीबों के कल्याण के लिए कारगर कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कहा वनाधिकार अधिनियम लागू करने में मध्यप्रदेश देश में पहले स्थान पर है। प्रदेश में अब तक सवा दो लाख वनाधिकार पट्टे दिए जा चुके हैं। अकेले डिंडोरी जिले में ही विशेष अभियान चलाकर 23 हजार हैक्टेयर जमीन के पट्टे अनुसूचित जनजाति के लोगों को दिए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि एकता परिषद के सत्याग्रहियो ने 4 अक्टूबर को दिल्ली के लिए कूच करने का ऐलान किया है। इससे माना जा रहा है कि विधानसभा चुनाव की बेला में सीएम आंदोलनकारियों को मनाने की कोशिश करेंगे। मप्र के ग्वालियर में जुटे हजारों भूमिहीनों ने मोदी सरकार को चेतावनी दी है कि अगर जमीन सहित उनकी अन्य मांगें नहीं मानी गईं तो वे अगले लोकसभा चुनाव में सरकार गिरा देंगे। यहां से विचार मंथन के बाद सभी भूमिहीन 4 अक्टूबर को दिल्ली के लिए कूच करेंगे। ग्वालियर के मेला मैदान में देश के अलग अलग राज्यों से जमा हुए हजारों भूमिहीनों में केंद्र की मोदी सरकार के रवैये को लेकर खासी नाराजगी है।
केंद्र सरकार को 2019 में परिणाम भुगतने के लिये रहें तैयार
एकता परिषद के संस्थापक पीवी राजगोपाल ने कहा केंद्र सरकार ने अगर मांगें नहीं मानीं तो 2019 के लोकसभा चुनाव में नतीजे भुगतने को तैयार रहे। राजगोपाल के आह्वान पर वहां मौजूद हजारों लोगों ने दोहराया कि अगर केंद्र सरकार ने उनकी मांगें नहीं मानीं तो आने वाले चुनाव में केंद्र में पीएम मोदी के नेतृत्व में सरकार नहीं बनेगी।
एकता परिषद के बैनर तले देश भर के हजारों भूमिहीनों को इकट्ठा करने वाले परिषद के संस्थापक पीवी राजगोपाल का कहना है कि अपना हक पाने के लिए अपनी ताकत का एहसास कराना जरूरी हो गया है उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से गरीब और वंचित वर्गों को उनका हक दिलाने की बातचीत चल रही है अगर इन मांगों को नहीं माना जाता है तो इस वर्ग को आगामी चुनाव में अपनी ताकत दिखानी होगी।

सपाक्स कार्यकर्ता गिरफ्तार
ग्वालियर में सीएम को काले झंडे दिखाने के लिए जा रहे सपाक्स कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। यह सभी एससी, एसटी एक्ट को लेकर सीएम के सामने विरोध प्रदर्शन करना चाह रहे थे लेकिन पुलिस सभी को पकड़कर हजीरा थाने ले आई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online