फूटी कॉलोनी -अतिक्रमण हटाने पर भीड़़ ने किया पथराव, पुलिस को दौड़ाया तो चलाई आंसू गैस

ग्वालियर. हाईकोर्ट के आदेश पर सिरोल, फूटी कॉलोनी में अवैध मकान तोड़ने पहुंचे निगम के अमले को लोगों ने एक महिला सुखिया बाई की मौत का नाटक रचकर वापिस लौटा दिया और धरने पर बैठ गए। पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे तो महिला की सांस चल रही थी। जब पुलिस ने एंबुलेंस मंगाई और सुखिया बाई को अस्पताल ले जाने लगे तो सैकड़ों लोग विरोध करने लगे। भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस ने लाठी चलाई। इसके बाद भीड़ ने पथराव शुरू कर दिया।
पथराव में एसडीएम दिनेशचंद्र शुक्ला, एसआई शैलजा सिंह, सहित कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। भीड़ ने अधिकारी व पुलिसकर्मियों पर लगभग 400 मीटर दूरी तक दौड़-दौड़ कर पथराव किया। भीड़ ने एसडीएम के सरकारी वाहन के कांच तोड़ दिये। भीड़ हुरावली चौराहे तक पथराव करती हुई आई तो पुलिस ने लाठीचार्ज किया। उग्रभीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को 10 से अधिक आंसू गैस गोले भी छोड़ने पड़े।
महिला के लिए पुलिस ने एंबुलेंस बुलवाई तो भड़क गई भीड़
ग्वालियर की हुरावली रोड स्थित फूटी कालोनी पर हाईकोर्ट के आदेश पर अतिक्रमण विरोधी मुहिम अमला अतिक्रमण हटाने पहुंचा तो भीड़ ने अमले और पुलिस पर पथराव कर दिया।
मौके से गायब हुई सुखिया बाई
मकानों की तोड़फोड़ की वजह से सुखिया बाई का सदमे से मरना ता रहे थे, उसे घेरकर लगभग डेढ़ सौ महिलायें बैठी थी। जैसे ही भीड़ उग्र होकर पथराव शुरू किया, वैसे ही सुख्या बाई समेत सभी महिलायें मौके से गायब हो गयी।
बाकी मकानों को आज हटाया जायेगा
हाईकोर्ट के आदेश पर जिला प्रशासन और नगर निगम के अतिक्रमण विरोधी अमले सोमवार को देर शाम तक 30 मकानों को हटा दिया और यहां 82 मकानों के खिलाफ कार्यवाही की जानी है। जिला प्रशासन की टीम मंगलवार की सुबह 7.30 बजे कार्यवाही करने के लिये जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online