हिंदुस्तान में एक और सीक्रेट किलर के-4 मिासइल शामिल होने वाली है, इसी हफ्ते परीक्षण हो सकता है

नई दिल्ली. हिंदुस्तान में एक और खतरनाक हथियार शामिल होने वाला है जिसका नाम के-4 है। परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम के-4 मिसाइल का परीक्षण इस हफ्ते के आखिर में किया जा सकता है। पानी से जमीन पर मार करने में सक्षम इस मिसाइल के परीक्षण भर से ही पाकिस्तान थर-थर कांप रहा है। जानिए के-4, एटम बम की धमकी देने वाले पाकिस्तान के क्यों होश उड़ा रही है।
के-4 बैलास्टिक मिसाइल की रेंज 3500 किलोमीटर
भारत के (मिसाइल मैन डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम) ने देश की सुरक्षा के लिए जिस ब्रह्मास्त्र का सपना देखा था उसका नाम है अग्नि मिसाइल लेकिन अब डॉ. अब्दुल कलाम के सपने को आगे बढ़ाते हुए भारत ने अग्नि के जल अवतार के-4 की ताकत हासिल कर ली है। न्यूक्लियर बैलेस्टिक मिसाइल के-4 भारत के दुश्मनों को जलाकर भस्म करने के लिए तैयार हो चुकी है। के-4 बैलास्टिक मिसाइल की रेंज 3500 किलोमीटर है और ये जीरो एरर के साथ दुश्मन पर कहर बरपा सकती है यानी के-4 का निशान अचूक है। इसे समुद्र की गहराइयों में पनडुब्बी से लॉन्च किया जा सकता है।

के-4 अरिहंत क्लास परमाणु पनडुब्बी के लिए डिजाइन की गई है
के-4 बैलेस्टिक मिसाइल अपने साथ 2 हजार किलोग्राम तक परमाणु हथियार ले जा सकती है। 12 मीटर लंबी इस मिसाइल का वजन करीब 17 टन है। डीआरडीओ के कार्यक्रम के तहत बनाई जा रही के-4 एक हल्की, तेज और आसानी से रडार की पकड़ में ना आने वाली मिसाइल है। के-4 मिसाइल का सबसे महत्वपूर्ण फीचर उसका बूस्ट गाइड फ्लाइट सिस्टम है जिसकी मदद से ये किसी भी एंटी- बैलेस्टिक मिसाइल सिस्टम को चकमा दे सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online