हजीरा अस्पताल के उन्नयन से ग्वालियर को बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें मिलेंगीं -नरेन्द्र सिंह तोमर

ग्वालियर उपनगर ग्वालियर एवं हजीरा क्षेत्र में आर्थिक रूप से कमजोर परिवार बहुतायत में निवास करते हैं। इसलिए इस क्षेत्र में एक अत्याधुनिक अस्पताल की जरूरत महसूस की जा रही थी। हजीरा अस्प्ताल के उन्नयन से इस क्षेत्र के निवासियों को बेहतर स्वास्थ्य सेवायें मिल सकेंगीं। यह बात केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कही। श्री तोमर के मुख्य आतिथ्य में शुक्रवार को 114 बिस्तरीय अस्पताल का भूमिपूजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री जयभानसिंह पवैया ने की। इस अवसर पर लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री रूस्तम सिंह बतौर प्रमुख अतिथि मौजूद थे।
सिविल अस्पताल हजीरा के 3 मंजिला भवन के निर्माण के लिये प्रदेश सरकार ने 12 करोड़ रूपए की राशि मंजूर की है। अस्पताल भवन में 2 वार्ड 11 . 11 बिस्तर के और 2 वार्ड 5 व 8 बिस्तर के होंगे। साथ ही 5 बिस्तर का चिल्ड्रन वार्ड भी बनाया जायेगा। अस्पताल भवन में 8 . 8 बिस्तर के जनरल वार्ड होंगे और इसमें 2 सेमी प्राइवेट वार्ड भी बनेंगे। प्रथम तल पर 5 बैड का आईसीयू व एक बैड का स्पेशल आईसीयू, द्वितीय तल पर 44 बिस्तर बिस्तर की व्यवस्था होगी, जिसमें 12 व 5 बिस्तर के जनरल वार्ड शामिल रहेंगे। इसी तल पर 8 बिस्तर का बच्चों का वार्ड भी बनेगा। इसके अलावा मदर केयर वार्ड और ऑपरेशन थियेटर भी बनाए जायेंगे।
केन्द्रयी मंत्री ने कहा कि चाहे जितने निजी नर्सिंग होम खुल जाएं, आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के लिए आज भी सरकारी अस्पताल ही सहारा हैं। इसलिये सरकार ने स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार पर विशेष ध्यान दिया है। उन्होंने कहा इसी कड़ी में सरकार ने आयुष्मान भारत योजना शुरू की है, जो स्वास्थ्य के क्षेत्र में दुनिया की सबसे बड़ी योजना है। इससे देश के 10 करोड़ परिवार और 50 करोड़ की आबादी लाभान्वित होगी। मध्यप्रदेश सरकार समग्र एवं संतुलित विकास की परिकल्पना को साकार कर रही है। उन्होंने उपनगर ग्वालियर व हजीरा क्षेत्र में सड़क, सीवर, पेयजल व स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार के क्षेत्र में उच्चशिक्षा मंत्री द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की।
कार्यक्रम में क्षेत्रीय जनप्रतिनिधिगण तथा कलेक्टर अशोककुमार वर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ मृदुल सक्सेना व सिविल सर्जन डॉ व्हीके गुप्ता सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।
अत्याधुनिक मशीनें आयेंगीं हजीरा अस्प्ताल में . श्री पवैया
जयभान सिंह पवैया ने कहा कि सिविल अस्पताल हजीरा का अत्याधुनिक भवन तो बनेगा ही, साथ ही अस्पताल उन सभी अत्याधुनिक मशीनों व चिकित्सा उपकरणों से सुसज्जित होगा, जो बड़े.बड़े अस्पतालों में होते हैं। श्री पवैया ने कहा कि हजीरा अस्प्ताल में पौंने दो करोड़ की राशि मशीनें खरीदने के लिये मंजूर हुई है। उन्होंने कहा सिविल अस्पताल हजीरा की ओपीडी में लगभग जिला चिकित्सालय के बराबर मरीज आते हैं। इसलिए इस अस्पताल के आधुनिकीकरण की जरूरत महसूस की जा रही थी। उन्होंने भरोसा दिलाया कि भवन का निर्माण तेजी से कराया जायेगा।
चिकित्सकों की कमी नहीं रहने दी जायेगी . रूस्तम सिंह
लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने कहा कि सिविल अस्प्ताल हजीरा में बाल एवं शिशु रोग, हड्डीरोग विशेषज्ञ और प्रसूति रोग विशेषज्ञ की व्यवस्था जल्द ही की जायेगी। उन्होंने कहा बड़ी आबादी की आशा का केन्द्र इस अस्पताल को अत्याधुनिक अस्पताल में तब्दील किया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना से मध्यप्रदेश की डेढ़ करोड़ की आबादी लाभान्वित होगी। उन्होंने संबल योजना सहित प्रदेश सरकार की अन्य कल्याणकारी योजनाओं पर भी प्रकाश डाला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online