पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त टीएन शेषन का निधन

चैन्नई. पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त टीएन शेषन का 86 वर्ष की आयु में रविवार की शाम को निधन हो गया है। चैन्नई स्थित अपने आवास पर टीएन शेषन ने अंतिम सांस ली। भारत में चुनाव आयोग को पहचान दिलाने में टीएन शेषन का अहम योगदान माना जाता है। न्यूज एजेंसी के अनुसार पूर्व चुनाव आयुक्त एसवाई कुरेशी के हवाले से बताया गया है कि कार्डियक अरेस्ट आने की वजह से टीएन शेषन का निधन हुआ है। वह दिसम्बर 1990 से दिसम्बर 1996 तक भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त रहें। ईमानदारी से ड्यूटी करने के चलते बड़े-बड़े नेताओं की हेकड़ी निकाल देने वाले टीएन शेषन का अंतिम समय ओल्डछ एज होम में गुजर रहा था। उन्हें भूलने की बीमारी हो गयी थी। शेषन सत्यसाई बाबा के भक्त थे। उनकी मृत्यु के बाद वह सदमे में आ गये थे। उन्हें ओल्ड एज होम में भर्ती कराया था। वहां 3 वर्ष रहने के बाद वह फिर सेअपने घर चले गये, लेकिन वहां कुछ समय रहने के बाद वह फिर से ओल्ड एज होम लौट आये थे।
राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ा था
वर्ष 1997 में उन्होंने राष्ट्रपति का चुनाव लड़ा था। लेकिन केआर नारायणन से हार गये थे। उसके 2 साल बाद कांग्रेस के टिकट पर उन्होंने लालकृष्ण आडवाणी के खिलाफ चुनाव लड़ा था। लेकिन उसमें भी पराजित हुए। शेषन को 1996 में रेमन मैगसेसे अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। 1992 के यूपी विधानसभा चुनाव में उन्होंने सभी छोटे-बड़े अधिकारियों को साफ साफ शब्दों में कह दिया था कि चुनाव की अवधि तक किसी भी गलती के लिये वह उनके प्रति जवाबदेह होंगे। शेषन पहले एपीएस की परीक्षा में टॉपर रहें उसके बाद उन्होंने अगले वर्ष 1954 में 21 वर्ष की आयु में आईएएस की परीक्षा में टॉपर रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online