कश्मीर में सेना को मिलने जा रही 40 हजार बुलेटप्रूफ जैकेट

जम्मू कश्मीर. केंद्र सरकार ने घाटी में सेना के जवानों की सुरक्षा के लिए ऐसा कवच कश्मीर भेजने की तैयारी कर ली है जो उनकी रक्षा करेगा। पहली बार देश में बनी लगभग 40 हजार बुलेटप्रूफ जैकेट की खेप कश्मीर भेजी जा रही है। ये जैकेट कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन ऑलआउट चल रहे सेना के जवानों को मुहैया कराई जाएगी।
जैकेट स्टील से बनी गोलियों को भी झेल सकेगी
इस जैकेट की खासियत यही होगी कि इसे पहनने के बाद एके-47 की तड़ातड़ गोलीबारी भी इसका कुछ नहीं बिगाड़ पाएगी। ये जैकेट स्टील से बनी गोलियों को भी झेल सकेगी फिलहाल इन जैकेट को कानपुर स्थित सेंट्रल ऑर्डिनेंस डिपो पहुंचाया गया है। यहां से जल्द ही इन्हें जम्मू कश्मीर भेजा जाएगा। इन्हें बनाने वाली कंपनी की तरफ से मेजर जनरल अनिल ओबेरॉय ने बताया कि वह सेना को समय से पहले ही इन जैकेट का ऑर्डर पूरा कर देंगे। सरकार ने यह ऑर्डर पूरा करने के लिए कंपनी को 2021 तक की तारीख दी है लेकिन 2020 के अंत तक सारी जैकेट बन कर तैयार हो जाएंगी।
सेना को 1.86 लाख उच्च स्तरीय जैकेट मिलनी है
रक्षा मंत्रालय ने सेना को पिछले साल ही बुलेटप्रूफ जैकेट देने की योजना बनाई थी जिसके लिए सेना ने 639 करोड़ रुपए का सौदा किया था इसके तहत सेना को 1.86 लाख उच्च स्तरीय जैकेट मिलनी है। रक्षा मंत्रालय ने कहा था कि इस प्रोजेक्ट से सरकार की मेक इन इंडिया योजना को भी बढ़ावा मिलेगा। इसे भारतीय सेना और उद्योगों का आत्मविश्वास बढ़ाने वाला कदम माना जा रहा है।
क्या खास है इस जैकेट में
इन जैकेटों को बोरॉन कार्बाइड सेरेमिक से तैयार किया गया है जो कि सुरक्षा के लिए सबसे हल्का और बेहतरीन मैटेरियल है। ये जैकेट जवानों के शरीर को 360 डिग्री सुरक्षा देगी जिससे युद्ध और एंटी टेरर ऑपरेशन में भी इनका इस्तेमाल किया जा सकेगा। मॉड्यूलर पार्ट्स से बनी होने के कारण ये लचीली है और पहनने में आसान व सुविधाजनक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online