एसपी नवनीत भसीन ने टीआई प्रशांत यादव को हटाया

ग्वालियर. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता चंद्रमोहन नागौरी से बदतमीजी करने वाले टीआई पड़ाव प्रशांत यादव को हटा दिया है। टीआई ने नेता के घर जाकर माफी भी मांगी जबकि अब मामला कांग्रेस की प्रतिष्ठा का बनने से पुलिस प्रशासन भी सकते में आ गया है। नेता भी इस मामले में कोई समझौता करने के मूड़ में नहीं है।
क्या है पूरा मामला
कांग्रेस नेता व पूर्व जीडीए अध्यक्ष चंद्रमोहन नागौरी बीते गुरूवार को पड़ाव थाने में एक बुजुर्ग पारिवारिक विवाद में समझौता कराने पड़ाव थाने गए थे। यहां थाने में टीआई प्रशांत यादव ने बुजुर्ग नेता नागौरी को अपने केबिन से बड़े ही बदतमीजी भरे अंदाज से बाहर कर दिया। इतना ही नहीं इस मामले में थाने में ऊर्जा डेस्क की प्रभारी सबा खान ने वरिष्ठ नेता को सबके सामने गालियां भी दी। घटना के बाद शिकायत आला अफसरों को की गई। जबकि दो दिन बाद भी कोई एक्शन थाना प्रभारी के खिलाफ नहीं हुआ। जब माहौल गरमाया तो बीती रात को टीआई प्रशांत यादव सीधे कांग्रेसे नेता के घर पहुंचे और उनसे सफाई देने लगे कि मैं आपको पहचान नहीं पाया। इस पर नागौरी ने साफ कहा कि मैं नेता हूं आप नहीं पहचान पाए हो ये कोई बात नहीं है जबकि मैं सीनियर सिटीजन भी हूं कम से कम इसका लिहाज तो करना था इसके बाद टीआई कई बार सफाई देते रहे जबकि नागौरी ने साफ कह दिया कि अब मामला पार्टी के पाले में जो निर्णय पार्टी करेगी वो मान्य होगा।
दोपहर में टीआई को हटाया गया
बताया जा रहा है कि कैबिनेट मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के संज्ञान में मामला आते ही उन्होंने सीधे एसपी से बात की और टीआई को तत्काल सस्पेंड करने के लिए निर्देश दिए। उन्होंने सोशल मीडिया पर भी पोस्ट किया है कि सभी सिंधिया के सिपाही है। कांग्रेस नेता कार्यकर्ता हो या आमजन किसी के साथ भी अभद्रता नहीं की जाएगी। शहर में वीवीआईपी विजिट के कारण एसपी मामले को संज्ञान में ले नहीं पाए। ऐसे में एएसपी सतेन्द्र तोमर मामले की जांच कर रहे है जबकि आज शाम तक टीआई प्रशांत यादव को दोपहर में हटा दिया गया साथ ही इसके साथ ही ऊर्जा सेल में काम करने वाली एनजीओ संचालिका सबा खान को रवानगी दे दी गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online