हाईप्रोफाइल हनीट्रैप -तीनों महिलाओं को 4 अक्टूबर तक जेल भेजा

इन्दौर . हनीट्रैप मामले में पकड़ी गई महिलाओं को ज्यूडिशियल रिमांड पर भेजा।न्यायलय में बहस के बाद पुलिस रिमांड किया खारिज । भोपाल से पकड़ी गई थी 3 महिलाए । पुलिस ने न्यायालय से मांगा था 7 दिन का पुलिस रिमांड जिसे कोर्ट ने बहस के बाद किया खारिज। श्वेता जैन, बरखा सोनी भटनागर और श्वेता जैन की पुलिस रिमांड खारिज कर ज्यूडिशियल रिमांड पर जेल भेजा।
हाईप्रोफाइल हनीट्रैप के मामले में आरोपित श्वेता विजय जैन, श्वेता स्वप्निल जैन और बरखा अमित सोनी को पलासिया पुलिस शुक्रवार की शाम 4 बजे जिला न्यायालय के रूम नम्बर 25 में लेकर पहुंची। प्रथम श्रेणी न्यायिक दण्डाधिकारी राकेश कुमार पाटीदार के समक्ष अभियोजन ने तर्क रखा कि मामले में कुछ वीडियों मिले हैं।

मुख्य आरोपी 22 सितम्बर तक पीआर पर
श्वेता स्वप्निल जैन की ओर से एडवोकेट अमरसिंह राठौर, श्वेता विजय जैन की ओर अभिभाषक धर्मेन्द्र गुर्जर और बरखा अमित सोनी की ओर से एडवोकेट सुरेन्द्र कुमार वर्मा और आनंद सोसरिया ने पक्ष रखा। आरोपितों के वकीलों ने अदालत को बताया कि उनके पक्षकार का मामले से कोई लेना देना नहीं हें। इस मामले में पुलिस मोबाइल और लैपटॉप पहले ही जब्त कर चुकी है। मुख्य आरोपित 22 सितम्बर तक पुलिस रिमाण्ड पर हैं।

4 अक्टूबर तक 3 आरोपी जेल भेजा
तीन आरोपितों को 3 दिन पूर्व हिरासत में ले लिया गया था लेकिन पुलिस ने गिरफ्तारी नहीं दिखाई। अदालत ने गुरूवार को तीनों आरोपितों को एक दिन के पुलिस रिमाण्ड पर सौंप चुकी है। ऐसी स्थिति में एक बार फिर पुलिस रिमाण्ड पर सौंपने का कोई मतलब नहीं। अदालत ने सभी पक्षों को सुनने के बाद आदेश रिजर्व कर लिया जो देर शाम जारी हुआ। न्यायाधीश पाटीदार ने तीनों आरोपितों को पुलिस रिमाण्ड पर सौंपने से मना करते हुए उन्हें 4 अक्टूबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online