मप्र के स्कूलों में भी शुरू होगी केजी-1 की क्लासेस

भोपाल. प्रायवेट स्कूलों की तरह शहर के सरकारी प्रायमरी स्कूलों में भी केजी-1 कक्षायें शुरू करने की तैयारी करने के मूड में मप्र सरकार, इन्हें प्री -प्रायमरी का दर्जा दिया जायेगा। नई शिक्षा नीति के तहत यह कवायद की जा रही है। कलेक्टर एवं मिशन संचालक सर्वशिक्षा अभियान तरूण पिथोड़े ने फंदा एवं बैरसिया के सभी संकुल प्राचार्यो को इस संबंध में निर्देश जारी कर दिये गये। इसे तुरंत लागू करने को कहा गया है। इन कक्षाओं में 4 वर्ष से अधिक आयु समूह के बच्चों को पढ़ाया जायेगा।
विशेषज्ञ रमाकांत पांडे का कहना है कि केन्द्र सरकार ने इसे समग्र शिक्षा नीति का नाम दिया है। इस वर्ष मप्र में 1500 ऐसे स्कूल शुरू होंगे। इसके लिये शिक्षकों को ट्रेनिंग भी देना चाहिये। अभी फण्ड नहीं आकस्मिक निधि से करें इंतजाम निर्देशों में साफ कहा गया है कि इसके शैक्षणिक सामग्री एवं उनके उपयोग के निर्देश अलग से जारी किये जायेंगे। तब तक संस्था उपलब्ध आकस्मिक निधि से कुछ खिलौने एवं शैक्षणिक सामन खरीदे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online