पाकिस्तानी सेना और आतंकियों के बीच हुई बातचीत का खुलासा

नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाये जाने के बाद से बौखलाये पाकिस्तान की बड़ी आतंकी साजिश का खुलासा हुआ है। लाइन ऑफ कन्ट्रोल के पास एफएम फ्रिक्वेंसी के माध्यम से भारतीय खुफिया एजेंसियों को पाक आर्मी और कश्मीर के आतंकियों के बीच हुई बातचीत के सुराग मिले हैं। आपको बता दें कि कुछ दिन पूर्व ही पाकिस्तानी सेना की सिग्नल कोर ने एलओसी के पास हाई फ्रिक्वेंसी लगाये थे। अब इसके जरिये ही पीओके में बैठे आतंकी कश्मीर में अपने हैण्डलर्स को संदेश भेज रहे हैं। इन एफएम स्टेशनों से कौमी तराना कार्यक्रम के माध्यम से कश्मीर आतंकियों को कोडवर्ड में संदेश भेज रहे हैं। इसी के माध्यम से लश्कर-ए-तैयबा, जैश ए मोहम्मद और अल बद्र नाम के आतंकी संगठनों द्वारा संदेश भेजे जा रहे है।
यह कोड से संदेश भेज रहे हैं
पाकिस्तानी सेना द्वारा जैश के लिये 66/88, लश्कर ए तैयबा के लिये ए3 और अलबद्र के लिये डी-9 कोडवर्ड का उपयोग किया जा रहा है। आपको बता दें कि 12 अगस्त के बाद से इन एफएम स्टेशनों आतंकी ‘‘कोमी तराना’’ कार्यक्रम का प्रसारण कर रहा हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

users online